राजनाथ सिंह ने BJP के ‘जल मिट्टी रथ’ यात्रा को दिखाई हरी झंडी, कहा- हम विश्व गुरु बनना चाहते है

0
13

नई दिल्ली। BJP ने मिशन 2019 के तहत लाल किले के पास ‘राष्ट्रीय रक्षा महायज्ञ’ आयोजित करने का निर्णय लिया है। इस महायज्ञ के लिए यज्ञ कुंडों को बनाने हेतु देश के हर कोने से जल और मिट्टी लाई जाएगी। इसी के लिए आज ‘जल मिट्टी रथ’ यात्रा निकली गई है। जिसकी गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने हरी झंडी दिखाकर शुरुआत की है।

जानकारी है कि यह रथ यात्रा देश के हर कोने में जाकर वहां से इस महायज्ञ के कुंडों को बनाने के लिए जल, मिट्टी, और देशी घी जमा करके लायेगी। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में राजनाथ सिंह ने कहा “हम दूसरे देशों में रहने वाले लोगों के दिलों में दहशत पैदा करने के लिए बलवान बनना नहीं चाहते हैं, बल्कि हम विश्व गुरु बनना चाहते हैं। उन्होंने कहा “इस रथ यात्रा के द्वारा हम देश की सीमाओं की मिट्टी और चार धाम का जल लेकर आएंगे। हम देश की अखंडता और एकता के लिए ये सब कर रहे हैं। हम पूरे विश्व के कल्याण के लिए काम करते हैं। उन्होंने कहा हमारा देश विश्व में वसुधैव कुटुम्बकम की बात करता है।

डोकलाम से भी लाया जाएगा जल, मिट्टी:-  बार्डर पर तैनात वीर जवानों के त्याग और संघर्षों को ध्यान में रखकर ही BJP की ओर से ‘यह राष्ट्रीय रक्षा महायज्ञ’ का आयोजन हो रहा है। इस महायज्ञ के लिये 108 यज्ञ कुण्डों का निर्माण किया जायेगा। बुधवार सुबह ‘जल मिट्टी रथ’ यात्रा को गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इण्डिया गेट से हरी झंडी दिखाकर शुरुआत की है। इसके लिए प्रमुख तीर्थ स्थलों, जम्मू कश्मीर की बार्डर और डोकलाम से भी जल और मिट्टी लाई जाएगी। जिसके संग्रहण से BJP दिल्ली के लालकिले के पास ‘राष्ट्रीय रक्षा महायज्ञ’ आयोजन करेगी।

यज्ञ कब से कब तक होगा एवं कौन-कौन होंगे उपस्थित:- यह महायज्ञ अगले महीने में 18 से लेकर 25 मार्च तक चलेगा। इस महायज्ञ के द्वारा शत्रु विनाशिनी, राज शक्ति प्रदान करने वाली भगवती बगलामुखी का आह्वान किया जायेगा। इस महायज्ञ में 1111 ब्राम्हण 2.25 मन्त्रों का उच्चारण करेंगे। इस महायज्ञ में देश के तमाम साधु संत भाग लेंगे, तथा आम जनता से लेकर PM मोदी, राष्ट्रपति कोविंद, और कई गणमान्य नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here