आयोग ने योगी और मायावती के चुनाव प्रचार पर लगाई रोक

0
16
Yogi-Mayawati

राज एक्सप्रेस, नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने विवादास्पद भाषणों के जरिये आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामलों में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री तथा बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती (Yogi-Mayawati) पर क्रमश: 72 तथा 48 घंटे के लिए चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी है। आयोग ने इन दोनों नेताओं को 16 अप्रैल को सुबह छह बजे से उन्हें चुनाव प्रचार में भाग लेने, जनसभाएं करने, रोड शो आयोजित करने, मीडिया के सामने बयान देने और साक्षात्कार देने आदि पर रोक लगाई है।

आयोग ने योगी आदित्यनाथ को नौ अप्रैल को मेरठ में आपत्तिजनक एवं विवादास्पद भाषण देने के मामले में नोटिस जारी किया था जबकि मायावती को देवबंद में सात अप्रैल को भड़काऊ भाषण देने के मामले में नोटिस जारी किया था। योगी के किसी प्रकार के चुनाव प्रचार पर 16 अप्रैल को सुबह छह बजे से 72 घंटों के लिए रोक लगी रहेगी। आयोग ने इन दोनों नेताओं के भाषण की वीडियो रेकॉर्डिंग को पूरी तरह से देखने और उसका अध्ययन करने के बाद ही यह कदम उठाया है।

आचार संहिता का उल्लंघन:

आयोग ने योगी और मायावती के चुनाव प्रचार पर लगाई रोक (Yogi-Mayawati)गौरतलब है कि, योगी ने अपने भाषण में ‘हरा वायरस’ और ‘बजरंगबली’ तथा ‘अली’ का जिक्र किया था। आयोग ने सोमवार को अपने फैसले में कहा कि, योगी का वीडियो देखने के बाद आयोग इस बात पर सहमत हुआ है कि उन्होंने अपने भाषण से सांप्रदायिक सौहार्द को भंग करने तथा विभिन्न समुदायों के बीच नफरत फैलाने और उनके बीच मतभेद को बढ़ाने का काम किया है जो कि आदर्श चुनाव आचार संहिता का सरासर उल्लंघन है।

आयोग ने पांच अप्रैल को भी योगी आदित्यनाथ को एक अन्य मामले में निर्देश दिया था कि, वह अपने सार्वजनिक भाषणों में चुनाव में ध्रुवीकरण की कोशिश ना करें। आयोग ने रविवार को भी चुनाव के दौरान नेताओं के भाषण पर गहरी चिंता व्यक्त की थी। आयोग ने मायावती के मामले में उनके वीडियो के अध्ययन के बाद पाया कि मायावती ने अपने भाषण में सांप्रदायिक सौहार्द को भंग करने और आपसी नफरत फैलाने का काम किया है जो कि आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। इसलिए उन्हें 16 अप्रैल को सुबह छह बजे से 48 घंटे के लिए उन्हें चुनाव प्रचार में भाग लेने, जनसभाएं करने, रोड शो आयोजित करने, मीडिया के सामने बयान देने और साक्षात्कार देने आदि पर रोक लगाई है।

यह भी पढ़ें : पुलिस की पैनी नजर से नही बच पाए, आचार संहिता का उल्लंघन करते प्रत्याशी

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image