Birthday Special: अभिनेत्री नहीं डाक्टर बनना चाहती थी पूनम ढ़िल्लों

0
27
Poonam Dhillon

राज एक्सप्रेस। बॉलीवुड में पूनम ढिल्लों (Poonam Dhillon) ने अपनी दिलकश अदाओं से लगभग तीन दशक तक दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया, लेकिन कम लोगों को पता है कि, वह डाक्टर बनना चाहती थी। पूनम ढिल्लों ने लगभग 70 फिल्मों में काम किया है। वह इन दिनों फिल्म इंडस्ट्री में सक्रिय नहीं है।

पूनम ढिल्लों  का परिचय:

जन्म: 18 April 1962
जन्म स्थान: कानपुर
माता का नाम: गुरचरण कौर
पिता का नाम: अमरीक सिंह
व्यवसाय: एक्ट्रेस
लाइफ पार्टनर: अशोक ठकारिया
बच्चे: 2

जन्म और शिक्षा:

पूनम ढिल्लों का जन्म 18 अप्रैल 1962 को कानपुर में हुआ। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा चंडीगढ़ कार्मेल कान्वेंट हाई स्कूल से पूरी की। उनके पिता का नाम अमरीक सिंह है, जो कि एक एयरोनॉटिक्स  इंजीनियर थे, तथा उनकी मां का नाम गुरचरण कौर है। पूनम का एक भाई और एक बहन भी है।

बतौर अभिनेत्री ‘त्रिशूल’ से शुरू हुआ सफर:

Birthday Special: अभिनेत्री नहीं डाक्टर बनना चाहती थी पूनम ढ़िल्लों (Poonam Dhillon)1977 में पूनम ढिल्लों को मिस इंडिया प्रतियोगिता में हिस्सा लेने का अवसर मिला, जिसमें वह पहले स्थान पर रही। इस बीच पूनम ढिल्लों के सौन्दर्य से प्रभावित होकर निर्माता-निर्देशक यश चोपड़ा ने अपनी फिल्म ‘त्रिशूल’ में उनसे काम करने की पेशकश की, लेकिन पहले तो उन्होंने इस पेशकश को अस्वीकार कर दिया, लेकिन बाद में पंजाब यूनिवर्सिटी में कार्यरत उनकी पारिवारिक मित्र गार्गी ने उन्हें समझाया कि फिल्मों में काम करना कोई बुरी बात नही है। फिल्म ‘त्रिशूल’ में पूनम ढिल्लों को संजीव कुमार, शशि कपूर और अमिताभ बच्चन जैसे नामचीन सितारों के साथ काम करने का अवसर मिला। इस फिल्म में उन्होंने संजीव कुमार की पुत्री की भूमिका निभाई, जो अभिनेता सचिन से प्रेम करती है। फिल्म में उन पर फिल्माया गीत ‘गप्पूजी गप्पूजी गम गम’ उन दिनों युवाओं के बीच क्रेज बन गया था। यह फिल्म ‘त्रिशूल’ टिकट खिड़की पर सुपरहिट साबित हुई।

‘नूरी’ से मिली कामयाबी:  

Birthday Special: अभिनेत्री नहीं डाक्टर बनना चाहती थी पूनम ढ़िल्लों (Poonam Dhillon)1979 में यश चोपड़ा के ही बैनर तले बनी फिल्म ‘नूरी’ में पूनम ढिल्लों को काम करने का अवसर मिला। बेहतरीन गीत-संगीत और अभिनय से सजी इस फिल्म की कामयाबी ने उन्हें, बल्कि अभिनेता फारूख शेख को भी स्टार के रूप में स्थापित कर दिया। फिल्म में लता मंगेशकर की आवाज में ‘आजा रे आजा रे मेरे दिलबर आजा गीत’ आज भी श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर देता है।

पर्सनल लाइफ:

Birthday Special: अभिनेत्री नहीं डाक्टर बनना चाहती थी पूनम ढ़िल्लों (Poonam Dhillon)पूनम ढिल्लों के पर्सनल लाइफ की बात करें तो, उन्होंने 1988 में निर्माता अशोक ठकारिया के साथ शादी कर ली। अशोक ठकारिया ने दिल, बेटा, राजा, मस्ती और मन जैसी कई कामयाब फिल्मों का निर्माण किया है। इसके बाद पूनम ढिल्लों ने फिल्मों में काम करना काफी कम कर दिया। पूनम ढिल्लों को ‘द परफेक्टस हासबैंड वाइफ’ में 2005 में अवार्ड भी मिला है। इन्होंने 2004 में कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली। इसके अलावा यह एडिटिंग और सोशल वर्क से भी जुड़ीं। हालांकि दोनों की शादी ज्यादा दिनों तक नहीं टिकी और दोनों अलग हो गए। पूनम के दो बच्चे हैं, एक बेटा और एक बेटी।

टीवी करियर:

1995 में पूनम ढिल्लों ने दर्शकों की पसंद को देखते हुये छोटे पर्दे का भी रूख किया और अंदाज तथा किटीपार्टी जैसे धारावाहिकों में काम किया। इन सबके साथ ही ‘बिग बॉस’ के तीसरे सीजन में उन्होंने हिस्सा लिया, जिसमें वह तीसरे स्थान पर चुनी गई। फिल्मों में कई भूमिकाएं निभाने के बाद पूनम ढिल्लों सामाजिक कार्यो में दिलचस्पी लेने लगी। उन्होंने शराब विमुक्ति, एड्स और परिवार नियोजन जैसे कई सामाजिक कार्यो में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेकर समाज को जागरूक करने का प्रयास किया है। इस बीच उन्होंने अपनी मेकअप वैन कंपनी ‘वैनिटी’ की स्थापना की, जो फिल्म इंडस्ट्री में कलाकारों को उनके मेकअप की सभी सुविधाएं उपलब्ध कराती है।

राजेश खन्ना के साथ काम करने को मिला मौका:

Birthday Special: अभिनेत्री नहीं डाक्टर बनना चाहती थी पूनम ढ़िल्लों (Poonam Dhillon)फिल्म ‘नूरी’ की सफलता के बाद पूनम ढिल्लों ने यह निश्चय किया कि, वह फिल्म इंडस्ट्री में अभिनेत्री के रूप में अपनी पहचान बनाएंगी। इसके बाद उन्हें राजेश खन्ना के साथ ‘रेड रोज’, जितेन्द्र के साथ ‘निशाना’ और राजकपूर के बैनर तले बनी फिल्म ‘बीबी ओ बीबी’ में काम करने का अवसर मिला, लेकिन दुर्भाग्य से सभी फिल्में टिकट खिड़की पर असफल साबित हुई। इन फिल्मों की असफलता से पूनम ढिल्लो को अपना कैरियर डूबता नजर आया, लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और अपना संघर्ष जारी रखा। इस बीच उन्हें राजेश खन्ना के साथ फिल्म ‘दर्द’ और कुमार गौरव के साथ फिल्म ‘तेरी कसम’ में काम करने का अवसर मिला। इन फिल्मों की सफलता के बाद पूनम अभिनेत्री के रूप में फिल्म इंडस्ट्री में स्थापित हो गई।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image