भारत का वर्तमान स्वरूप सरदार वल्लभ भाई पटेल के प्रयासों का परिणाम: CM शिवराज

0
17

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज (CM Shivraj) सिंह चौहान ने आज कहा है कि भारत का वर्तमान स्वरूप सरदार वल्लभ भाई पटेल के प्रयासों का परिणाम है। CM शिवराज सिंह चौहान ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की 142वीं जयंती पर मंत्रालय के पटेल उद्यान में अधिकारियों, कर्मचारियों, स्थानीय नागरिकों और विद्यार्थियों को राष्ट्रीय एकता, अखण्डता और सुरक्षा को बनाये रखने की शपथ दिलाई।

इस मौकेपर CM शिवराज ने अपने संबोधन में कहा कि भारत का वर्तमान स्वरूप सरदार वल्लभ भाई पटेल के अथक प्रयासों का परिणाम है। उन्होंने 500 रियासतों को भारत में शामिल करने में अविस्मरणीय योगदान दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि तत्कालीन प्रधानमंत्री स्व. जवाहर लाल नेहरू ने जम्मू-कश्मीर का मामला भी सरदार पटेल को सौंप दिया होता तो आज पाक अधिकृत कश्मीर भी भारत का हिस्सा होता। सरदार पटेल ने भोपाल, हैदराबाद और जूनागढ़ की रियासतों को भी भारत में विलय होने के लिये मजबूर किया।

उन्होंने कहा कि भारत की एकता और अखण्डता को विखण्डित करने के प्रयासों को कभी कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। भारत की एकता को खण्डित करने के प्रयासों को मुँह तोड़ जवाब मिलेगा। उन्होंने कहा कि भारत अब 1962 का भारत नहीं रहा। आज भारत एक सशक्त और सक्षम राष्ट्र है। पाकिस्तान की सीमा पर घुसकर सर्जिकल स्ट्राईक कर सकता है और चीन की सेना को वापस जाने के लिये मजबूर कर सकता है।

उल्लेखनीय है कि सरदार वल्लभ भाई पटेल को जन्म-दिवस को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में पूरे प्रदेश में मनाया जा रहा है। सभी जिलों में सरदार पटेल के योगदान का स्मरण करते हुये उन्हें श्रद्धाजंलि दी गई।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here