स्विस टेनिस स्टार मार्टिना हिंगिस ने तीसरी और आखिरी बार अपने संन्यास की घोषणा

0
28

सिंगापुर। पूर्व नंबर वन स्विस टेनिस स्टार मार्टिना हिंगिस ने तीसरी और आखिरी बार अपने संन्यास की घोषणा कर दी। 1990 के दशक में महज 15 साल की उम्र में विंबलडन(डबल्स) जीत कर इतिहास रचने वाली हिंगिस 20 साल बद डबल्स में नंबर वन होने के साथ टेनिस कोर्ट को अलविदा कहने जा रही है। यह 37 वर्षीय स्विस खिलाड़ी इससे पहले दो बार संन्यास ले चुकी थी। 2007 में कोकीन के लिए किए गए टेस्ट में पॉजीटिव पाए जाने के बाद उन्होंने खेल छोड़ने की घोषणा की थी। 

एक बार कोकीन के लिये किये गये परीक्षण में पाजीटिव पाए जाने के बाद उन्होंने खेल छोडऩे की घोषणा की थी। लेकिन अब उन्होंने कहा है कि सिंगापुर में चल रहा डब्ल्यूटीए फाइनल्स उनका अंतिम टूर्नामेंट होगा। उन्होंने अपने खेल जीवन में बुरे दौर जरूर देखे फिर चाहे वह लगातार चोटों से परेशानी हो या फिर कोकीन  परीक्षण में पॉजिटिव आने के बाद दो साल का बैन। हिंगिस ने हमेशा उन दौरों से लौट कर खुद को दोबारा स्थापित करने में सफलता पाई।

हिंगिस ने चान यंग जान के साथ मिलकर अन्ना लेना ग्रोनफील्ड और क्वेटा पाश्क को युगल में 6-3, 6-2 से हराने के बाद पत्रकारों से कहा, मुझे लगता है कि इस बार निश्चित है। यह अलग हटकर है क्योंकि इससे पहले जब मैंने संन्यास लिया था तो यह सोच रही थी कि मैं वापसी कर सकती हूं।

अपने करियर में हिंगिस ने कुल सात सिंगल्स ग्रैंड स्लैम जीते। जबकि 13 बार डबल्स में बाजी मारी। वापसी के बाद मिक्स्ड डबल्स में भी हिंगिस का जलवा रहा और उन्होंने कुल सात ग्रैंड स्लैम अपने नाम किए। हिंगिस ने अपने करियर में कुल 43 WTA और दो ITF खिताब जीते।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here