रोजर फेडरर ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए डेल पोत्रो को 6-7, 6-4, 6-3 से हराया

0
20

बासेल। विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर ने जबरदस्त प्रदर्शन दिखाते हुए घरेलू दर्शकों के सामने अर्जेटीना के जुआन मार्टिन डेल पोत्रो को 6-7, 6-4, 6-3 से हराकर आठवीं बार स्विस इंडोर टेनिस टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम कर लिया। 19 बार के ग्रैंड स्लेम चैंपियन फेडरर ने घरेलू मैदान पर चौथी वरीय डेल पोत्रो को दो घंटे 30 मिनट में पराजित किया। फेडरर ने इस जीत के साथ ही डेल पोत्रो से यहां 2012 और 2013 के फाइनल में मिली हार का बदला भी चुकता कर लिया। फेडरर ने अब विश्व के 19वें नंबर के डेल पोत्रो के खिलाफ अपना करियर रिकॉर्ड 24-18 कर लिया है। 36 वर्षीय फेडरर का इस वर्ष का यह सातवां खिताब हैं जिसमें आस्ट्रेलियन ओपन और विंबलडन भी शामिल हैं। फेडरर इससे पहले शंघाई में अपना दूसरा शंघाई मास्टर्स खिताब जीत चुके हैं। स्विस खिलाड़ी ने अब तक अपने करियर में 95 खिताब अपने नाम किए हैं और अब वह अमेरिका के जिमी कोर्नर्स (109 खिताब) के बाद सर्वाधिक खिताब जीतने के मामले में दूसरे नंबर पर आ गए हैं। Related image

फेडरर ने करियर का 95वां खिताब जीता
36 वर्षीय फेडरर ने पोत्रो को उनकी हैट्रिक से रोकने के लिए हर संभव कोशिश की। यहां सेंट जाकोबशैल एरिना में इस रोमांचक मैच में फेडरर ने निर्णायक सेट में 5-2 की बढ़त बनाई जबकि पोत्रो ने सर्विस बचाई। लेकिन दबाव में पोत्रो खराब बैकहैंड शॉट लगा बैठे जिससे फेडरर ने करियर का 95वां खिताब अपने नाम कर लिया। हालांकि इस सत्र की समाप्ति राफेल नडाल को पछाड़ कर खुद विश्व के नंबर एक खिलाड़ी के तौर पर करने की उम्मीद कर रहे फेडरर ने अगले सप्ताह पेरिस मास्टर्स से पीठ की चोट का हवाला देते हुए नाम वापिस ले लिया है जिससे नडाल को फिलहाल शीर्ष स्थान से अपदस्थ करना उनके लिए मुश्किल हो गया है। Image result for फेडरर ने करियर का 95वां खिताब जीताफेडरर फिलहाल एटीपी रैंकिंग में नडाल से 1460 अंक पीछे हैं और उन्होंने इस सत्र में लगातार अंतराल पर कई टूर्नामेंटों से नाम वापिस लिया है। माना जा रहा है कि स्विस खिलाड़ी का पेरिस से हटने का कारण अगले महीने एटीपी फाइनल्स में पूरी फिटनेस के साथ लौटना है। वहीं अर्जेटीना के खिलाड़ी यदि बासेल में खिताबी हैट्रिक बना लेते तो वह रैंकिंग में आठवें स्थान पर पहुंच जाते और लंदन के लिए क्वालीफाई कर लेते। लेकिन अब उन्हें सत्र के आखिरी सत्र में जगह बनाने के लिए हर हाल में पेरिस मास्टर्स के सेमीफाइनल तक पहुंचना होगा। फेडरर ने जीत के बाद कहा कि पोत्रो को पेरिस के लिए बधाई। उम्मीद है मेरी उनसे लंदन में मुलाकात होगी।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here