लोकतंत्र को नुकसान पहुँचाना चाहते है याचिकाकर्ता, VVPAT-EVM की 100 फीसदी मिलान की मांग खारिज

0
22
EVM-VVPAT matching

राज एक्सप्रेस| लोकसभा चुनाव के परिणाम आने से पहले ही विपक्षी पार्टियों ने evm मशीन पर सवाल उठाना शुरू कर दिया है| जिसे लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका तक दायर की गयी| इसी को लेकर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने विपक्षी पार्टियों द्वारा VVPAT-EVM की 100 फीसदी पर्चियों के मिलान (EVM-VVPAT matching) की मांग को ख़ारिज कर दिया है| साथ ही कोर्ट ने कहा, अगर इस मामले में दखल दिया गया तो इससे लोकतंत्र को नुकसान होगा|

चेन्नई के टेक फॉर ऑल ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर कहा था कि, तकनीकी तौर पर वीवीपीएटी से जुड़ी ईवीएम सही नहीं है| जिसके जवाब में सुप्रीम कोर्ट ने कहा, “आप न्यूसेंस क्रिएट कर रहे है”| बता दे कि, याचिकाकर्ताओं ने गोवा और उड़ीसा की EVM मशीन में गड़बड़ी का हवाला देते हुए सभी VVPAT-EVM की पर्चियों के मिलान करने की मांग रखी थी|

पिछली सुनवाई का हवाला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा, इस मामले में मुख्य न्यायाधीश की बेंच पहले ही फैसला सूना चुकी है| फिर इस मामले में वेकेशन बेंच को परेशान क्यों किया जा रहा है| सुप्रीम कोर्ट ने याचिका को बकवास बताते हुए कहा, अगर ऐसा ही चलता रहा तो इससे लोकतंत्र को नुकसान पहुंचेगा|

चुनाव नतीजे आने में होगी देरी

बता दे कि, इससे पहले 7 मई 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने 21 विपक्षी पार्टियों द्वारा VVPAT-EVM की 50 फीसदी पर्चियों के मिलान (EVM-VVPAT matching) की मांग को ख़ारिज कर दिया था| साथ ही कोर्ट ने पुनर्विचार याचिकाओं को भी ख़ारिज कर दिया था| जिससे 21 विपक्षी दलों को बड़ा झटका लगा है| इस सुनवाई के दौरान चंद्रबाबू नायडू, डी. राजा, संजय सिंह और फारूक अब्दुल्ला भी मौजूद थे|

चुनाव आयोग ने इस मामले में कहा था कि, VVPAT-EVM की 50 फीसदी पर्चियों का मिलान किया जायेगा तो चुनाव परिणाम 6- 9 दिनों की देरी से आएगा| आयोग ने कहा था आगे एक एक मतदान केंद्र की वीवीपीएटी स्लिप काउंट की जाये तो उसमे एक घंटे का समय लगता है| अगर कुल 50 फीसदी का मिलान किया जाये तो उसमे 6 दिन का समय लगेगा| कुछ क्षेत्र में 400 से ज्यादा पोलिंग बूथ है वहां के नतीजे आने में तो 9 दिन का समय लग जायेगा|

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image