अब क्रिकेटरों का भी होगा डोप टेस्ट: खेल मंत्रालय

0
26
अपना पक्ष रखने का मौका देने के लिए यूसुफ पठान ने BCCI को धन्यवाद दिया

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI) के लिये अब क्रिकेटरों का डोप टेस्ट कराना अनिवार्य होगा, जिसके निर्देश उसे केंद्रीय खेल मंत्रालय की ओर से दिये गये हैं। भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने अब तक खिलाड़ियों की निजता का हवाला देते हुये विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी(वाडा) के नियमों को लागू नहीं किया है। बोर्ड की यह भी दलील है कि BCCI सरकार से आर्थिक सहायता नहीं लेती है और एक निजी संस्था होने के नाते उसपर वाडा के नियमों को बाध्य नहीं किया जा सकता है।

हालांकि खेल मंत्रालय ने राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी(नाडा) को निर्देश दिये हैं कि वह भारतीय क्रिकेटरों के डोप टेस्ट सुनिश्चित करे जिसमें स्पर्धा के दौरान और स्पर्धा के अलावा डोप टेस्ट किया जाना शामिल है। वाडा ने केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर को पत्र लिखकर कहा है कि वह BCCI को वाडा के नियमों को लागू करने के लिये बाध्य करे नहीं तो उसे इसके परिणाम भुगतने होंगे। वाडा ने साथ ही नाडा को भी ऐसा नहीं करने पर उसकी मान्यता रद्द करने के भी सख्त संकेत दिये हैं जिससे बाकी के खेलों पर भी बुरा असर पड़ सकता है।

इस बीच खेल मंत्रालय ने भी वाडा के निर्देशों को गंभीरता से लेते हुये बीसीसीआई में डोपिंग नियमों को लागू कराने के लिये उसे अदालत तक ले जाने के संकेत दिये हैं। गौरतलब है कि देश की राष्ट्रीय डोपिंग एजेंसी के बजाय BCCI अपने खिलाड़ियों के टेस्ट स्वीडन स्थित कंपनी आईडीटीएम से कराता है। खेल सचिव राहुल भटनागर ने कहा हमने नाडा के महानिदेशक को उनके अधिकारियों को भारतीय क्रिकेटरों के नमूने लेने के निर्देश दिये हैं। BCCI यदि उन्हें इससे रोकता है तो हम उनके खिलाफ कोई कार्रवाई करने से पीछे नहीं हटेंगे।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here