भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर PM मोदी ने ”रन फॉर यूनिटी” को दिखायी हरी झंडी

0
43

नई दिल्‍ली। भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल (Sardar Vallabhbhai Patel) की आज (31 अक्टूबर) को 142 वीं जयंती है। इस मौके पर देश भर में ‘रन ऑफ यूनिटी’ का आयोजन किया जा रहा है। नई दिल्ली के नेशनल स्टेडियम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय एकता दौड़ के लिए ‘रन ऑफ यूनिटी’ को हरी झंडी दिखाई।


* “रन फॉर यूनिटी” में कई केंद्रीय मंत्रियों तथा वरिष्ठ अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया। यह दौड़ थीम रोड से शुरू होकर वीरांगना लक्ष्मीबाई की समाधि पर जाकर समाप्त हुई।

* “रन फॉर यूनिटी” में शटलर पीवी सिंधु, महिला क्रिकेट की कैप्टन मिताली राज और पूर्व हॉकी कप्तान सरदार सिंह हिस्सा ले रहे हैं।

इन नेताओं ने की पुष्पांजलि अर्पित

दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह पटेल चौक स्थित सरदार पटेल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की।

PunjabKesari

PM मोदी ने अपने संबोधन में कहा

PM नरेंद्र मोदी ने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा, आज सरदार साहब की जन्मतिथि है और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि भी है। सरदार पटेल ने अपने जीवन को देश की आजादी के लिए खपा दिया। आजादी के बाद भी सरदार पटेल ने साम-दाम-दंड-भेद, कूटनीति और रणनीति के जरिये देश को संकटों से बचाया और देश को एक सूत्र में बांधा।

दौड़ की शुरूआत करते हुए मोदी ने कहा ‘‘हम सरदार पटेल को उनकी जयंती पर हम नमन करते हैं। उनकी महत्वपूर्ण सेवाओं तथा अमूल्य योगदान को भारत कभी भुला नहीं सकता।’’ प्रधानमंत्री ने बताया कि आजादी के पहले तथा भारत के आजाद होने के बाद शुरूआती वर्षों में सरदार पटेल का जो योगदान रहा उस पर देश में हर कोई गर्व करता है।

युवा पीढ़ी को नहीं कराया गया सरदार पटेल से परिचित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि देश को एकता के सूत्र में पिरोने वाले लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल को नयी पीढ़ी से परिचित नहीं कराया गया और उनके नाम को इतिहास से मिटाने का प्रयास किया गया।

पूरा देश राष्ट्रीय एकता दिवस मना रहा

नई दिल्ली के मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि 31 अक्टूबर को पूरा देश “राष्ट्रीय एकता दिवस” के तौर पर मना रही है।

PM मोदी ने लोगों को दिलाई शपथ

पीएम मोदी ने सरदार पटेल की जयंती पर कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को शपथ दिलाई, “मैं सत्यनिष्ठा से शपथ लेता हूं कि मैं राष्ट्रीय एकता, अखण्डता और सुरक्षा को बनाए रखने के लिए स्वयं को समर्पित करूंगा। और अपने देशवासियों के बीच यह संदेश फैलाने के लिए निरंतर प्रयास करूंगा। मैं यह शपथ अपने देश की एकता की भावना से ले रहा हूं। इसमें सरदार भाई पटेल की दूरदर्शिता एवं कार्य संभव बनाया जाएगा। मैं अपने देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अपना योगदान करने का भी सत्यनिष्ठा से संकल्प करता हूं।”

हर साल सरदार पटेल की जयंती मनायी जाती

गौरतलब है कि केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद हर साल सरदार पटेल की जयंती मनायी जाती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे पर्व का रूप दे दिया है, कई राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि गांधी परिवार से इतर कांग्रेस के बड़े नेताओं को मोदी प्रतीक के रूप में इस्तेमाल करते हैं।

सरदार पटेल देश के पहले उप प्रधानमंत्री भी थे

सरदार पटेल देश के पहले उप प्रधानमंत्री और गृह मंत्री थे। आजादी के बाद पांच सौ से ज्यादा रियासतों के भारत में विलय का श्रेय सरदार पटेल को दिया जाता है। हालांकि आजादी के कुछ ही साल बाद 15 दिसंबर 1950 को उनका निधन हो गया। 1991 में सरदार पटेल को मरणोपरांत भारत रत्न दिया गया।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here