इटली के PM पाओलो जेंटिलोनी 10 साल बाद भारत की यात्रा पर आए, कई समझौतों पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद

0
20

नई दिल्ली। इटली के प्रधानमंत्री पाओलो गेंतिलोनी दो दिन की यात्रा पर आज भारत पहुंच गए हैं। यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति भवन पर उनका स्वागत किया। राष्ट्रपति भवन पर पाओली का औपचारिक स्वागत हुआ है। इस यात्रा के खास होने की वजह है कि 10 साल बाद इटली से कोई प्रधामंत्री भारत यात्रा पर आ रहा है। PM पाओलो गेंतिलोनी का PM नरेंद्र मोदी ने स्वागत किया, उसके बाद राजघाट जाकर गांधी जी की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की है। उन्होंने कहा है कि हमारे बीच मजबूत आर्थिक संबंध हैं और इसे और मजबूत करने के लिए पारस्परिक हित भी हैं। इटली की कंपनियां भारत में न केवल निवेश बढ़ाने की इच्छुक हैं बल्कि भारत भी सहयोगी देश से मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत रक्षा तकनीक समेत अन्य में सहयोग बढ़ाने का इच्छुक है। वह विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से भी मिल रहे हैं।
प्रधानमंत्री मोदी और इटली के प्रधानमंत्री ने संयुक्त प्रेस वार्ता के दौरान कहा
पीएम मोदी ने कहा कि स्मार्ट सिटी, फूड प्रोसेसिंग, फार्मास्युटिकल के क्षेत्र में हम इटली के साथ सहयोग बढ़ा सकते हैं और मुझे जानकर अच्छा लगा कि इटली के बहुत सारे लोग भारत की संस्कृति में रुचि रखते हैं। हम दोनों (भारत-इटली) आतंकवाद के सभी रूप से लड़ने और साइबर सिक्यॉरिटी के लिए प्रतिबद्ध हैं। वहीं, इटली के प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत और इटली के संबंधों को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि भारत की संस्कृति बहुत रिच है। अर्थव्यवस्था के मामले में भारत में बहुत सारी संभावनाएं हैं। हम भारत के साथ मिलकर आर्थिक संकटों से निपट सकते हैं। भारत में कई ऐसे सुधार हुए हैं जिनका निवेश पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।
भारतीय सैन्य बल इटली की तकनीक से बने रक्षा साजो-सामान का इस्तेमाल करती रही है। इटली यूरोपीय देशों में पांचवा भारत का बड़ा साझीदार देश है। मौजूदा समय में इटली की 140 के करीब बड़ी कंपनी सक्रिय रूप से कारोबार कर रही हैं। 1991 में दोनों देशों का द्विपक्षीय व्यापार करीब 694 यूरो का था। 2012 तक आते-आते यह 8.5 बिलियन यूरो के आंकड़ो को पार कर गया। 2012 से इसमें गिरावट आनी शुरू हुई।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here