जुलाई-सितंबर तिमाही में घरों की बिक्री 18 प्रतिशत गिरी

0
24

नई दिल्ली। चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में 9 प्रमुख शहरों में मकानों की बिक्री 18 प्रतिशत घटकर 44755 इकाई रह गई। डॉट कॉम की रिपोर्ट के अनुसार नए रीयल एस्टेट कानून रेरा के क्रियान्वयन की वजह से दूसरी तिमाही में नए मकानों की पेशकश 53 प्रतिशत घटकर 22115 इकाई पर आ गई। रिपोर्ट में कहा गया है कि संपत्ति बाजार में सुस्ती से घरों की मांग घटी है। 7 शहरों पुणे, नोएडा, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद, कोलकाता और अहमदाबाद में घरों की बिक्री तथा नई पेशकश दोनों में गिरावट आई। वहीं 2 शहरों मुंबई और गुरुग्राम में मांग एवं आपूर्ति दोनों में बढ़ोतरी हुई।
नई रेरा और जी.एस.टी. व्यवस्था से आई गिरावट
नई रेरा और जीएसटी व्यवस्था से दूसरी तिमाही में जहां कम संख्या में नए मकान पेश किए गए, वहीं बिक्री में भी गिरावट आई। हालांकि, जुलाई और अगस्त की तुलना में सितंबर में घरों की बिक्री कुछ बढ़ी है। इसकी वजह डेवलपर्स द्वारा दी गई त्योहारी छूट और रियायतें हैं।
रियल्टी पोर्टल प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के चीफ इंवेस्टमेंट ऑफिसर अंकुर धवन का बयान
रियल्टी पोर्टल प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के चीफ इंवेस्टमेंट ऑफिसर अंकुर धवन ने कहा, “रेरा कानून और जीएसटी व्यव्स्था के लागू होने से वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में नये घरों की लॉन्च और बिक्री में गिरावट दर्ज की गई है। हालांकि, बिक्री के आंकड़ें देखे जाएं तो जुलाई और अगस्त की तुलना में सितंबर महीने में बिक्री में सुधार देखने को मिला है। यह सुधार फेस्टिव सीजन में डेवेलपर्स की ओर से पेश किये गये ऑफर्स के चलते देखने को मिली है।”
जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान बिक्री के आंकड़ों पर एक नजर
# अहमदाबाद में बिक्री में सबसे अधिक 46 प्रतिशत की गिरावट आई है और यह 2222 इकाई रह गई।
# पुणो में घरों की बिक्री 32 प्रतिशत घटकर 7214 इकाई, नोएडा में 29 प्रतिशत घटकर 3606 इकाई रह गई।
# बेंगलुरु में 27 प्रतिशत घटकर 6976 इकाई रह गई।
# चेन्नई में 23 प्रतिशत घटकर 2945 इकाई रह गई।
# कोलकाता में 21 प्रतिशत घटकर 2993 इकाई रह गई।
# हैदराबाद में 18 प्रतिशत घटकर 3356 इकाई रह गई।
इस अवधि में गुरुग्राम में घरों की बिक्री 60 प्रतिशत बढ़कर 3342 इकाई रही। मुम्बई में यह 6 प्रतिशत बढ़कर 12,101 इकाई रही।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here