वेल्लोर लोकसभा सीट पर रद्द हो सकता है चुनाव, करोड़ो में कैश जप्त, राष्ट्रपति को लिखा पत्र: चुनाव आयोग

0
25
Vellore Lok Sabha Election

राज एक्सप्रेस| चुनाव के दौरान आये दिन आपको यह खबर सुनने को मिलती होगी कि, किसी पार्टी का उम्मीदवार पैसो के दम पर वोट अपने पक्ष में करने की कोशिश कर रहा हो| ऐसी ही एक खबर तमिलनाडु की वेल्लोर लोकसभा सीट से आ रही है| इस सीट से भारी मात्रा में कैश बरामद हुआ है| ऐसी आशंका जताई जा रही है कि, वेल्लोर लोकसभा सीट से चुनाव (Vellore Lok Sabha Election) रद्द किये जा सकते है| इस बात को लेकर चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र भी लिखा|

बता दे कि, किसी भी क्षेत्र से चुनाव को रद्द करने के लिए राष्ट्रपति से इज्जाजत ली जाती है| लोकसभा चुनाव की अधिसूचना राष्ट्रपति ही जारी करते है और इसे रद्द करने का अधिकार केवल उन्ही को है| 18 अप्रैल को वेल्लोर सीट पर मतदान होने है|

राष्ट्रपति को पत्र

चुनाव आयोग की एक टीम ने वेल्लोर जिले में सोमवार को द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) राजनैतिक पार्टी के एक अधिकारी के सीमेंट गोदाम से बड़ी मात्रा में कैश जब्त किये है| यह कैश कार्टून और बोरियो में भरे पड़े थे| जिस अधिकारी के गोदाम पर छापामारी की गयी उसे कोषाध्यक्ष दुरईमुरुगन का करीबी माना जाता है| बरामद की गयी रकम करोड़ो में मानी जा रही है| यही कारण है कि, चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति को पत्र लिकर चुनाव को रद्द करने की मांग की है|

पूरे राज्य समेत वेल्लोर में 18 अप्रैल को लोकसभा चुनाव होने है| बता दे कि, इस सीट से कोषाध्यक्ष दुरईमुरुगन के बेटे डी.एम. कथिर आनंद, द्रविड़ मुनेत्र कड़गम के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे है| बता दे कि, इससे पहले 2017 में चुनाव आयोग ने आर.के. नगर सीट से उपचुनाव को इसी कारण के चलते रद्द कर दिया था|

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम

शुरुआती मिली जानकारी के अनुसार, करोड़ो रकम को गोदाम शिफ्ट करने से पहले उससे दुरईमुरुगन शैक्षणिक ट्रस्ट के स्वामित्व वाले किंग्सटन कॉलेज में रखा गया था| बता दे कि, आयकर की छापामारी को रोकने के लिए द्रविड़ मुनेत्र कड़गम के उम्मीदवार कथिर आनंद ने मद्रास हाई कोर्ट से मदद मांगी है|

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image