पाकिस्तान के पूर्व PM नवाज के पार्टी नेतृत्व को दी चुनौती

0
24

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन ने निर्वाचन अधिनियम 2017 के उस प्रावधान को लाहौर हाईकोर्ट में चुनौती दी है, जिसने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Nawaz) को पनामा पेपर्स मामले में अयोग्य ठहराए जाने के बावजूद पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) का प्रमुख बनने का मार्ग प्रशस्त किया है।

Image result for बाजवापाकिस्तान के अखबार डॉन में आज प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, बार एसोसिएशन के सचिव आफताब अहमद बाजवा की ओर से दाखिल याचिका में दलील दी गई है कि सुप्रीम कोर्ट ने संविधान के अनुच्छेद 62 और 63 के तहत उन्हें अयोग्य ठहराया था। उन्होंने कहा कि श्री शरीफ को पार्टी का अध्यक्ष बनाया जाना ही असंवैधानिक है।

श्री बाजवा ने कहा कि यदि कोई संवैधानिक कानून के तहत सांसद नहीं बन सकता, तो वह निश्चित रूप से किसी राजनीतिक दल का प्रमुख या पदाधिकारी भी नहीं बन सकता।

Image result for Challenges to the party leadership of former Pakistan PM Nawaz Nawazउन्होंने कहा कि यह स्थापित सिद्धांत है कि जो कार्य सीधे तौर पर नहीं किया जा सकता, वह परोक्ष रूप से भी नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि PML-N के अध्यक्ष के रूप में श्री शरीफ का चुनाव न्याय और निष्पक्ष कानून के सिद्धातों का मजाक है।

पनामा पेपर्स मामले में सुप्रीम कोर्ट के गत 28 जुलाई के अयोग्य करार देने के फैसले के बाद श्री शरीफ ने अपनी पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्हें इस माह की शुरूआत में फिर से पार्टी प्रमुख चुना गया।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here