GST से महंगाई कम होगी और आम आदमी को फायदा होगा

0
34

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को GST पर खुलकर बात की और अपने विरोधियों को जवाब दिया। उन्होंने कहा कि जीएसटी से महंगाई कम होगी और इसका फायदा आम आदमी को होगा। पीएम मोदी ने ये बातें पूर्वी, दक्षिण और दक्षिण-पूर्वी देशों के उपभोक्ता संरक्षण पर आयोजित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में कही। पीएम मोदी ने पिछली सरकारों की नीतियों को भी जम कर कोसा। मौका दक्षिण एशिया में उपभोक्ता अधिकारों पर बात करने का था, लेकिन पीएम ने इस कॉन्फ्रेंस में सरकार की कई नीतियों के बारे में बात की। सबसे पहले उन्होंने GST पर उठ रहे सवालों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि जीएसटी एक क्रांतिकारी कदम है। इससे टैक्स वसूली में पारदर्शिता बढ़ेगी और आम आदमी की जरूरत की चीजें सस्ती होंगी।
उपभोक्ता हित की सुरक्षा सरकार की प्राथमिकता
मोदी ने कहा कि उपभोक्ता हित की सुरक्षा उनकी सरकार की प्राथमिकता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए एक नया उपभोक्ता सुरक्षा कानून तैयार किया जा रहा है। इस कानून में भ्रामक विज्ञापनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने और उपभोक्ता शिकायतों को तय समय से निपटाने पर जोर दिया जा रहा है। इससे बचाने के लिए सरकार लाएगी नया कानून भी लेकर आएगी बताया।
आधार कार्ड को मोबाइल से जोड़ने की वकालत
मोदी ने आधार कार्ड को मोबाइल से जोड़ने और सरकारी सेवाओं को इससे नियंत्रित करने के लिए कहा। उनका कहना है कि पिछली सरकारों ने लोक लुभावने काम किए हैं, जिससे देश को नुकसान हुआ है, लेकिन जो काम मौजूदा सरकार कर रही है उससे शुरू में तो तकलीफ होगी, लेकिन बाद में देश को फायदा होगा। इससे पहले राहुल गांधी ने जीएसटी पर स्वाल उठाते हुए उसे गब्बर सिंह टैक्स कहा था। लेकिन, पीएम का कहना है कि अज्ञानता की वजह से लोग इसकी अलोचना कर रहे हैं।
क्या था मोदी सरकार पर राहुल गांधी का बयान 
गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मोदी सरकार पर खूब तंज के तीर चलाये। GST और नोटबंदी को लेकर उन्होंने इस बार वित्त मंत्री अरुण जेटली को निशाने पर लिया। जेटली को डॉक्टर बताते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा है कि अर्थवस्था आईसीयू में है, लेकिन उनकी दवा में दम नहीं है। गुरुवार को ट्विटर पर राहुल गांधी ने लिखा, डॉ. जेटली, नोटबंदी और जीएसटी से अर्थव्यवस्था आईसीयू में है। आप कहते हैं आप किसी से कम नहीं, मगर आपकी दवा में दम नहीं। उन्होंने कहा कि सरकार ने जिस तरह से जीएसटी को लागू किया है, उससे टैक्स आतंकवाद की सूनामी आ चुकी है। राहुल ने कहा कि आठ नवंबर को 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों की बरसी मनाई जाएगी। उन्होंने हाल में हुए विवादों का जिक्र करते हुए कहा कि स्टार्ट अप इंडिया के साथ शट अप इंडिया नहीं चल सकता। राहुल ने नोटबंदी और जीएसटी से अर्थव्यवस्था को नुकसान का दावा करते हुए इसे मोदी मेड डिजास्टर यानी एमएमडी बताया। राहुल गांधी ने ये भी कहा कि मोदी जी हिंदुस्तान की इकोनॉमी को समझ नहीं पाए। राहुल का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, इसे हजारों लोगों ने रीट्वीट किया है।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here