क्यूरेटर के निलंबन पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड-एमसीए आमने सामने

0
21
IPL ऑक्शन के कारण BCCI ने किया T-20 मैचों में बदलाव

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI) और महाराष्ट्र क्रिकेट संघ(एमसीए)‘पिच फिक्सिंग’ में फंसे पुणे के क्यूरेटर पांडुरंग सलगांवकर को लेकर अब खुद ही असमंजस की स्थिति में फंस गये हैं। भारत और न्यूजीलैंड के बीच दूसरे वनडे से ठीक पहले सामने आये इस मामले में सलगांवकर को एमसीए ने कथिततौर पर पिच फिक्सिंग में संलिप्त पाये जाने पर तुरंत प्रभाव से पद से निलंबित करने की घेषणा की थी। लेकिन इसके कुछ देर बाद BCCI ने आधिकारिक बयान जारी कर क्यूरेटर को तुरंत प्रभाव से उनके पद से बर्खास्त करने की बात कही थी।

इस विवाद के बीच अब असमंजस की स्थिति पैदा हो गयी है क्योंकि जहां भारतीय बोर्ड क्यूरेटर को बर्खास्त करने की बात कह रहा है तो वहीं एमसीए ने कहा है कि उसने क्यूरेटर को निलंबित किया है। इसके अलावा अब एमसीए ने इस मामले में खुद की जांच समिति गठित करने का फैसला किया है जबकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद(ICC) की भ्रष्टाचार निरोधक ने इस मामले में अपनी जांच शुरू कर दी है। यानि साफ है कि एमसीए वैश्विक संस्था के साथ साथ स्वतंत्र रूप से इस मामले की जांच कराएगा।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here