नन्हे भतीजे का खून करने के बाद शव को 1 महीने तक सूटकेस में बंद रखा

0
19
नन्हे भतीजे का खून करने के बाद शव को 1 महीने तक सूटकेस में बंद रखा

नई दिल्ली। दिल्ली के स्वरूप नगर एरिया कुछ दिनों पहले से एक 7 साल के बच्चे को अगवा करने की खबर आई थी। पुलिस ने इस अगवा हुए बच्चे के केस को सुलझा लिया है। पुलिस द्वारा की गई जांच में यह बात सामने आई है कि आशीष नाम के बच्चे को उसके चाचा अवधेश ने ही 7 जनवरी को घर के करीब खेलते समय अगवा कर लिया था। उसने बच्चे को साइकिल दिलाने का लालच देकर अगवा किया एवं किराए के रूम में उसकी हत्या कर दी।

अपने ही भतीजे की हत्या करने के बाद हत्यारे ने शव को पॉलीथिन में पैक किया और सूटकेस में रख दिया था। इतना ही नहीं लोगों के शक से बचने के लिए उसने कमरे में कुछ मरे हुए चूहे भी रख दिए थे। कमरे से बदबू आने पर पड़ोसियों ने जब उससे पूछताछ की तो उसने मरे चूहों की बदबू को इसका कारण बता दिया। साथ ही उसने बदबू कम करने के लिए रूम में बहुत सारे परफ्यूम भी रखे थे, जो शव पर छिड़कता रहता था। एरिया के लोगों ने बताया कि अपने परिवार और आस-पड़ोसियों को अवधेश कहता था कि वो CBI में कार्य करता है। सबके बच्चों की नौकरी लगवा सकता है। और यूपीएससी भी अटैम्प्ट कर चुका है।

जानकारी यह भी है कि अवधेश पहले बच्चे के घर में ही रहता था, लेकिन बच्चे के पिता को लगा की अवधेश को अधिक मान्यता दी जा रही है, जिसके चलते दोनों के बीच तकरार होती थी। इसी के चलते अवधेश ने बदला लेने के लिए से अपने भाई के बेटे की हत्या कर दी। इलाके के लोगों ने पुलिस को यह भी बताया  है कि बच्चे के माता-पिता अवधेश को गालीयां भी देते थे। इसलिए उनसे बदला लेने के लिए गुस्से में उसने बच्चे की हत्या कर दी। यही नहीं उसने 15 लाख रुपए फिरौती मांगने का भी प्लान बनाया था, लेकिन हत्या कर देने और शव को ठिकाने नहीं लगाने के कारण वो ऐसा नहीं कर पाया था। फिलहाल, पुलिस ने अवधेश को अरेस्ट कर लिया है।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here