योगी के मंत्री की गाड़ी की चपेट में आने से 8 साल के मासूम बच्चे की मौत, CM ने दिया 5 लाख का मुआवजा

0
25

गोंडा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री य़ोगी आदित्य नाथ के मंत्री (Minister) ओम प्रकाश राजभर के काफिले की गाड़ियों की चपेट में आने से 8 साल के एक बच्चे की मौत हो गई। दरअसल, परसपुर मार्ग पर बाबागंज गोंनई गोसाईं पुरवा के निकट शनिवार की देर शाम करनैलगंज से परसपुर की ओर जा रहे प्रदेश के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर के काफिले की गाड़ी से जा रहा था। तभी अचानक मासूम गाड़ी के आगे आ गया और काफिले की चपेट में आकर मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

मंत्री के खिलाफ नारेबाजी

हादसे होने के बाद भी काफिला न रुकने और पुलिस की लीपापोती से नाराज लोगों ने परसपुर मार्ग जाम कर दिया और मंत्री के खिलाफ नारेबाजी की। बताया जाता है कि गोसाईं पुरवा निवासी विश्वनाथ का 8 साल का बेटा शिवा सड़क के किनारे खेल रहा था। इसी बीच मंत्री ओमप्रकाश राजभर का काफिला निकला और बच्चा हूटर की आवाज सुनकर भागने लगा। काफिले के वाहन से कुचलकर उसकी मौत हो गई। इस दुर्घटना के बाद मंत्री का काफिला नहीं रुका, इससे लोग नाराज हुए और लाश को सड़क पर रख कर जाम लगा दिया।

लोगों का कहना है कि पुलिस जबरदस्ती लाश हटवाने की कोशिश करती रही, जबकि लोग किसी जिम्मेदार अधिकारी को मौके पर बुलाने की बात कह रहे थे। करीब एक घंटे जाम के बाद पुलिस शव को कब्जे में लेकर कोतवाली ले आई। करनैलगंज कोतवाल सदानन्द सिंह ने बताया कि कोई तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। मृतक बच्चे के पिता विश्वनाथ ने शिकायत दर्ज कराई है। इस मामले को गंभीरता से देखते हुए बेतुके ढंग से गाड़ी चलाने और लापरवाही का केस दर्ज किया गया है।

योगी ने 5 लाख रुपए मुआवजा देने का किया ऐलान

सीएम योगी ने इस मामले में दुख जताते हुए परिजनों को 5 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही हैं। इसके साथ ही सरकार ने डीजीपी से इस घटना की रिपोर्ट मांगी है और डीजीपी को निर्देश दिए हैं कि वे इस मामले में आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करें।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here