बीजद सांसद बलभद्र माझी ने पार्टी से दिया इस्तीफा

0
28
बीजद सांसद बल, Balbhadra Majhi Resignation

राज एक्सप्रेस, भुवनेश्वर। ओडिशा में नवरंगपुर लोकसभा सीट से बीजू जनता दल (बीजद) के सांसद बलभद्र माझी ने गुरुवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा (Balbhadra Majhi Resignation) दे दिया। श्री माझी ने पार्टी की कार्य पद्धति पर नाराजगी जताते हुए, मुख्यमंत्री एवं बीजद प्रमुख नवीन पटनायक को अपना इस्तीफा सौंपा है। बीजद सांसद ने पार्टी पर्यवेक्षक द्वारा नवरंगपुर लोकसभा सीट के लिए संभावित उम्मीदवारों की सूची मुख्यमंत्री को सौंपे जाने के बाद इस्तीफा दिया है।

बीजद सांसद ने कहा:

श्री माझी ने अपना त्याग पत्र सौंपने के बाद पत्रकारों से कहा कि, उन्हें लगता है कि, पार्टी लोकतांत्रिक तरीके से काम नहीं कर रही है, इसलिए उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि, पार्टी पिछले कुछ समय से कई अवसरों पर उन्हें नजरअंदाज कर रही थी। बीजद प्रमुख ने बुधवार को नवरंगपुर, कालाहांडी, बरहामपुर और कोरापुट लोकसभा सीटों के अलावा इन लोकसभा क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले 28 विधानसभा क्षेत्रों के लिए संभावित उम्मीदवारों को लेकर विचार-विमर्श किया था। बीजद सांसद ने कहा कि, वह सरकारी नौकरी छोड़कर बीजद में शामिल हुए थे।

2014 के चुनावों में नवरंगपुर लोकसभा सीट:

वर्ष 2014 के चुनावों में नवरंगपुर लोकसभा सीट से सफलतापूर्वक चुनाव लड़े थे। श्री माझी ने अपने त्याग पत्र में आरोप लगाया है कि, पार्टी में कुछ नेता श्री पटनायक को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि, पार्टी का सांसद होने का बावजूद उन्हें पिछले कुछ महीनों के दौरान न तो पार्टी की किसी बैठक में आमंत्रित किया गया और न ही किसी तरह के विचार-विमर्श के लिए आमंत्रित किया गया। श्री माझी ने कहा कि, मुझे उस पार्टी में क्यों बने रहना चाहिए जिसमें सांसद होने के बावजूद मुझे किसी महत्वपूर्ण बैठक में आमंत्रित नहीं किया गया। बीजद सांसद ने कहा कि, उनके और पार्टी प्रमुख के बीच दूरी इसलिए बढ़ गई क्योंकि कुछ लोगों ने उन्हें गुमराह किया था।

आगामी लोकसभा चुनाव:

श्री माझी ने इस बात से इनकार किया है कि, उन्होंने पार्टी द्वारा आगामी लोकसभा चुनाव के लिए उनकी जगह पर अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास मंत्री रमेश चंद्र माझी को खड़ा किए जाने की संभावना के कारण इस्तीफा देने का निर्णय लिया। श्री माझी ने कहा कि, किसी को पार्टी के उम्मीदवार के रूप में खड़ा करने का फैसला पार्टी प्रमुख के अधिकार क्षेत्र में है और उन्हें इस मुद्दे पर कोई टिप्पणी नहीं करनी है। उन्होंने अभी तक किसी और पार्टी में शामिल होने और आगामी चुनाव लड़ने का फैसला नहीं किया है। उन्होंने बताया कि, पहले वह अपने निर्वाचन क्षेत्र में अपने समर्थकों से बात करेंगे और उनके सुझाव के अनुसार इस संबंध में कोई निर्णय लेंगे।

यह भी पढ़ें : ओडिशा में भाजपा को तगड़ा झटका: बिजॉय, दिलीप ने छोड़ी पार्टी

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image