भारत के इतिहास में सबसे बड़े दानी बने अजीम प्रेमजी

0
22
Wipro Chairman Azim Premji

राज एक्सप्रेस, नई दिल्ली। देश की तीसरी बड़ी आईटी कंपनी विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी (Azim Premji) ने 52750 करोड़ रुपए के अपने शेयर अजीम प्रेमजी फाउंडेशन को दान कर दिए हैं। इसका मतलब है कि, इन शेयरों के एवज में होने वाले लाभ को फाउंडेशन से जुड़ी गतिविधियों के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। ब्लूमबर्ग के मुताबिक, अजीम प्रेमजी 18.6 अरब डॉलर की दौलत के साथ भारत के दूसरे सबसे बड़े अमीर हैं।

दान किए 67 फीसदी शेयर:

अजीम प्रेमजी फाउंडेशन ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा कि, इस दान के बाद अजीम प्रेमजी द्वारा परोपकार और धर्मार्थ गतिविधियों के लिए दान की गई रकम बढ़कर 1.45 लाख करोड़ रुपए या 21 अरब डॉलर के स्तर तक पहुंच गई है। इस प्रकार अजीम प्रेमजी विप्रो के कुल 67 फीसदी शेयर दान कर चुके हैं। इस डोनेशन के साथ ही अजीम प्रेमजी भारतीय इतिहास के सबसे बड़े दानी बन गए हैं। अजीम प्रेमजी फाउंडेशन सीधे तौर पर शिक्षा के क्षेत्र में काम करता है। यह कुछ खास क्षेत्रों में काम करने वाले एनजीओ को भी सपोर्ट करता है।

शिक्षा को मजबूत बनाने की दिशा में काम करता है फाउंडेशन:

अजीम प्रेमजी फाउंडेशन ने कहा कि, फाउंडेशन स्कूली शिक्षा प्रणाली में सुधार में योगदान के लिए जिला और राज्य स्तर पर संस्थानों के नेटवर्क को मजबूत बनाने पर काम करता है। फाउंडेशन ने बेंगलुरु में अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी की स्थापना भी की है। जिसका उद्देश्य शिक्षा और उससे जुड़े एरियाज के लिए पेशेवर तैयार करना है। इससे शिक्षा से इतर परोपकार के क्षेत्रों में विस्तार करने में मदद मिलेगी।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image