Golf: अमेरिका के टाइगर वुड्स ने 11 वर्ष बाद जीता मास्टर्स खिताब

0
22
Tiger Woods

राज एक्सप्रेस। पूर्व नंबर-1 गोल्फर अमेरिका के टाइगर वुड्स (Tiger Woods) ने जबरदस्त वापसी करते हुये 11 वर्ष के लंबे अंतराल बाद अपना पहला और करियर का कुल 5वां मास्टर्स खिताब जीत इतिहास रच दिया है। 43 साल के वुड्स कई वर्षाें से पीठ की चोट से जूझ रहे थे जिसके कारण कई बार उनकी सर्जरी हो चुकी है, ऐसे में एक समय उनके करियर पर विराम लगता दिख रहा था। हालांकि गोल्फ के इतिहास में कमाल की वापसी करते हुये उन्होंने अपने करियर का 15वां मेजर खिताब जीत 11 वर्षाें का खिताबी सूखा समाप्त कर दिया है। वुड्स ने आखिरी बार वर्ष 2008 में यूएस ओपन के रूप में मेजर खिताब जीता था।

यह भी पढ़ें : इंडोनेशिया मास्टर्स गोल्फ टूर्नामेंट में चुनौती पेश करेंगे चौरसिया

उन्होंने अमेरिकी प्रतिद्वंद्वियों के बीच फाइनल राउंड में अंडर-पार 70 का स्कोर किया और कुल 13 अंडर 275 के स्कोर के साथ एक शॉट से जीत और 20 लाख डॉलर की जबरदस्त ईनामी राशि अपने नाम कर फिर से ‘ग्रीन जैकेट’ पहनने का गौरव हासिल किया। अगस्ता नेशनल में खिताब की होड़ सभी अमेरिकी दिग्गजों के बीच रही जिसमें विश्व के दूसरे नंबर के डस्टिन जॉनसन, तीन बार के मेजर चैंपियन ब्रुक्स कोएप्का और शैन्डर शॉफेले कुल 276 के स्कोर के साथ दूसरे नंबर पर रहे।  दो वर्ष पूर्व पीठ की गंभीर चोट के कारण वुड्स का करियर समाप्त होने की कगार पर था लेकिन मेजर खिताब के बाद एक बार फिर उन्होंने गोल्फ में अपनी बादशाहत के संकेत दिये हैं।

यह भी पढ़ें : आस्ट्रेलिया के गोल्फर जैरोड को तीसरी बार हुआ कैंसर
जीत के बाद उन्होंने कहा,

‘‘टूर्नामेंट में खिताब के कई दावेदार थे, लीडरबोर्ड पर बहुत कड़ी टक्कर थी और सभी बहुत अच्छा खेल रहे थे। मेरे लिये यह आसान नहीं था और इसीलिये मेरे बाल गिर रहे हैं। वुड्स के करियर का यह ओवरऑल पांचवां खिताब है जिसके साथ ही उन्होंने गैरी प्लेयर को पीछे छोड़ दिया है जिन्होंने करियर के लंबे अंतराल में मेजर खिताब जीता था।” अमेरिकी दिग्गज खिलाड़ी ने अपनी जीत के साथ ही हवा में हाथ उठाये और मेजर खिताब जीत का जश्न मनाया। उनकी जीत में उनके पिता अर्ल, 10 वर्षीय बेटा चार्ली, बेटी और गर्लफ्रेंड एरिका हरमन भी मौजूद थीं।

पूर्व नंबर एक खिलाड़ी ने कहा,

‘‘मुझे लगता है कि बच्चे अब समझने लगे हैं कि यह खेल मेरे लिये क्या मायने रखता है। इससे पहले तो उन्हें लगता था कि इस खेल ने मुझे काफी दर्द ही दिया है। मैं कई वर्षाें से संघर्ष कर रहा हूं। लेकिन सौभाग्य से अब मैं सही दिशा में आगे बढ़ रहा हूं। मैं नयी यादें बना रहा हूं और यह जीत मेरे लिये बहुत खास है।” 43 वर्ष की उम्र में वुड्स दूसरे सबसे उम्रदराज़ मेजर खिताब विजेता भी बन गये हैं। उनसे आगे इस मामले में जैक निकोलस हैं। निकोलस ऑल टाइम रिकार्ड में भी वुड्स से तीन खिताब आगे हैं। वुड्स की यह पीजीए टूर में 81वीं जीत थी और वह सैम स्नेड को करियर रिकार्ड के मामले में पीछे छोड़ने से एक खिताब दूर हैं।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image