नई दिल्ली। टीम इंडिया के मशहूर क्रिकेटर राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) का आज 46वां जन्‍मदिन है। राहुल का जन्म 11 जनवरी 1973 को इंदौर में हुआ था। राहुल द्रविड़ ने 12 साल की उम्र में क्रिकेट खेलना शुरू किया था। इंग्‍लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर सौरव गांगुली के साथ द्रविड़ ने टेस्‍ट क्रिकेट में पदार्पण किया था। दोनों ने पहले मैच में शतक जड़ अपने कॅरियर की शानदार शुरुआत की। इसी खूबी के कारण द्रविड़ को ‘वॉल’ और ‘मिस्‍टर रिलायबल’ नाम मिला था। द्रविड़ की छवि ऐसे बल्‍लेबाज के रूप में थी, जो विकेट पर लंगर डालकर लंबी पारियां खेलता था।Rahul Dravid

यही कारण है कि, दुनिया के कई दिग्‍गज बॉलरों ने द्रविड़ को आउट करने के लिहाज से सबसे मुश्किल बल्‍लेबाज माना है। राहुल द्रविड़ ने अपने एकमात्र T-20 इंटरनेशनल मैच में लगातार 3 गेंदों पर छक्‍के जमाने का कमाल किया था। द्रविड़ 88 शतकीय साझेदारियों में शामिल रहे। लक्ष्‍मण और सचिन के साथ उनकी कई यादगार साझेदारियां हैं। भारतीय क्रिकेट की सबसे यादगार टेस्‍ट जीतो में से एक, 2001 के कोलकाता का टेस्‍ट मैच है जिसमे लक्ष्‍मण और द्रविड़ की साझेदारी ने ही मैच का रुख पलटा था।

राहुल द्रविड़ की क्रिकेट से जुड़ी खास बातें…
  • राहुल द्रविड़ ने अपनी खास बल्‍लेबाजी तकनीक से अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाना शुरू कर दिया था। उन्‍होंने अंडर-15, अंडर-17 और अंडर -19 वर्ग में कर्नाटक की टीम का प्रतिनिधित्‍व किया।
  • 3 अप्रैल 1996 को राहुल द्रविड़ ने सिंगापुर में श्रीलंका के खिलाफ वनडे मैच खेलकर अपने इंटरनेशनल करियर का आगाज किया। इस मैच में वे केवल 3 रन बनाकर आउट हो गए थे।
  • राहुल ने अपना पहला टेस्‍ट मैच जून 1996 में इंग्‍लैंड के खिलाफ मशहूर लॉर्ड्स मैदान पर खेला था।
  • द्रविड़ ने 164 टेस्‍ट में 13288 रन (36 शतक, 63 अर्धशतक, औसत 52.31) बनाए। बेहद आक्रामक अंदाज में क्रिकेट खेलने वाले ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वीवीएस लक्ष्‍मण के अलावा राहुल द्रविड़ का रिकॉर्ड भी बेहद प्रभावी रहा है।
  • राहुल द्रविड़ ने 344 वनडे में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्‍व किया, इसमें उन्‍होंने 39.16 के औसत से 10889 रन बनाए। वनडे में द्रविड़ ने 12 शतक और 83 अर्धशतक बनाए।
  • नवंबर 2003 में द्रविड़ ने न्यूजीलैंड के खिलाफ हैदराबाद में 22 गेंदों पर 50 रन बनाए। यह उस समय अजित अगरकर के बाद दूसरा सबसे तेज अर्धशतक था। राहुल द्रविड़ टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे सफल कप्तान रहे। उनकी कप्तानी में भारत ने लगातार 14 टेस्ट जीते। वनडे में भी उनकी जीत का प्रतिशत 62.16 रहा।
  • टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद राहुल द्रविड़ इंडिया अंडर-19 और इंडिया ए टीम के कोच बने।
  • 2004-05 में एक ऑनलाइन सर्वे में राहुल द्रविड़ को भारत के सबसे सेक्सी पुरुष का खिताब मिला था। राहुल द्रविड़ ने अपने करियर में 1654 चौके लगाए हैं। उनसे अधिक चौके केवल सचिन तेंदुलकर के हैं।
ये भी पढ़े : सुनील गावस्कर ने द्रविड़ को किया सम्मानित ‘ICC हॉल ऑफ फेम’ में शामिल होने वाले 5वें भारतीय क्रिकेटर
राहुल द्रविड़ की जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें…

राहुल द्रविड ने अपने क्रिकेट करियर में कई बुलंदियों को छुआ है। उनके जीवन में काफी कम कॉन्ट्रोवर्सी रही है और काफी शांत तरीके से उन्होंने मैदान और ज़िन्दगी को जिया है। पिछले साल ही बाहुबली की एक्ट्रेस अनुष्का शेट्टी ने बताया था कि, उनका दिल राहुल द्रविड़ पर आया था। खैर राहुल द्रविड की ओर से ऐसा कुछ भी नहीं कहा गया है। राहुल द्रविड की पर्सनल लाइफ की बात करें तो, उनकी शादी डॉ विजेता पेंढारकर से हुई थी। विजेता ने मेडिकल की पढ़ाई की है और वे पहले नागपुर के अस्पताल में सर्जन थी, लेकिन शादी के बाद वे एक हाउसवाइफ बन गई। राहुल के 2 बेटे हैं। बड़े बेटे का नाम समित है और छोटे बेटे का नाम अन्वय है।

ये भी पढ़े : मशहूर भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ से बाहुबली की देवसेना को था प्यार वो उनके प्यार में काफी दीवानी थी।

पुरस्कार
  • 1998- क्रिकेट के लिए अर्जुन पुरस्कार
  • 2000- विजडन क्रिकेटर ऑफ द ईयर
  • 2004- टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर के लिए आईसीसी अवार्ड
  • 2004- पद्म श्री पुरस्कार, सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी
  • 2006- आईसीसी की टेस्ट टीम के कप्तान
  • 2013- पद्म भूषण पुरस्कार
शुभकामनाएं

 

5/5 (2)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image