देशभर में खुलेंगे अंबेडकर स्कूल ऑफ जर्नलिज्म इंस्टिट्यूट : गेहलोत

0
16
Ambedkar School of Media Empowerment

राज एक्सप्रेस| न्यूज़ और मीडिया में अनुसूचित जनजाति की दिलचस्पी बढ़ाने के उद्देश्य से देशभर में अंबेडकर स्कूल ऑफ जर्नलिज्म इंस्टिट्यूट (Ambedkar School of Media Empowerment) खोले जाएंगे| फ़िलहाल पुणे, अरुणाचल प्रदेश, उत्तराखंड और असम में इसकी शुरुआत हो गई है| गुरुवार को यहां केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत ने इन संस्थानों में नामांकन प्रारंभ करने के लिए एक बेवसाइट के जरिए उदघाटन किया| इस मौके पर राज्यसभा सदस्य अमर सबल, पूर्व सांसद तरुण विजय और आईआईएमसी के डीजी केजी सुरेश आदि मौजूद थे|

थावरचंद गहलोत ने कहा

गहलोत ने कहा कि, इससे दलितों और पिछड़े वर्गों में पत्रकारिता को लेकर न केवल सामाजिक चेतना आएगी बल्कि मीडिया में उनकी भागीदारी भी सुनिश्चित हो पाएगी| इससे दलित और पिछड़े समाज के बच्चे भी पत्रकारिता से जुड़कर मुख्यधारा में आ सकेंगे| उन्होंने केंद्र सरकार की ओर से हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया है|

आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए निशुल्क पढ़ाई

पूर्व सांसद तरुण विजय ने कहा कि डॉ. भीमराव अंबेडकर का जीवन एक सफल पत्रकार के रूप में भी बीता है| उन्होंने अपने जीवन काल में कई पत्र-पत्रिकाओं का संपादन भी किया| पत्रकार के रूप में उन्हें बहुत कम ही लोग जानते है| हमें उनकी लेखनी और साहित्य से भी बहुत कुछ सीखने की जरूरत है| उन्होंने कहा कि, “इस मीडिया स्कूल का मकसद एक प्रकार का मीडिया सत्याग्रह होगा”| उन्होंने लोगो से अपील की कि, ज्यादा से ज्यादा अनुसूचित जाति या पिछड़े समाज के बच्चों को आगे आकर इस मीडिया स्कूल में नामांकन कराना चाहिए| इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ मास कम्युनिकेशन के संबंद्ध में इस संस्थान में आधुनिक सुविधाओं से युक्त पत्रकारिता की पढ़ाई होगी| आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए निशुल्क पढ़ाई की भी व्यवस्था की जाएगी|

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image