हमारी प्रतिक्रया क्या होगी ? यह बहुत सरल है, आईएनएफ मामले में हम भी वही करेंगे : पुतिन

0
19
Vladimir Putin

राज एक्सप्रेस| रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने बुधवार को चेतावनी दी कि, यदि अमेरिका प्रतिबंधित मिसाइलों को विकसित करता है तो रूस भी ऐसा ही करेगा| रूस ने अमेरिका के उन वादों को ठुकरा दिया जिसमे उन्होंने रूस पर आरोप लगाया था कि, उसने अहम परमाणु हथियार समझौते का उल्लंघन किया है| इससे पहले अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने रूस पर आईएनएफ संधि उल्लंघन का आरोप लगाया था|

इस पर पुतिन ने कहा कि, अमेरिका यदि एक महत्वपूर्ण हथियार संधि से बाहर निकलता है और इसके बाद प्रतिबंधित मिसाइलों को विकसित करना शुरू करता है तो रूस भी ऐसा ही करेगा| क्रेमलिन प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने अमेरिका पर तंज कस्ते हुए कहा कि, अमेरिका तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर पेश कर रहा है ताकि उसके संधि तोड़ने के कारण का पता नहीं चले|

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने नाटो की एक बैठक में घोषणा की थी कि, अमेरिका रूसी ‘धोखाधड़ी’ के कारण 60 दिनों में इंटरमीडिएट-रेंज न्यूक्लियर फोर्सेस ट्रीटी (आईएनएफ) संधि से खुद को अलग कर लेगा| यह संधि बचाने का दामोदर अब रूस पर है| राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस वर्ष की शुरुआत में आईएनएफ से अलग होने के अपने निर्णय की घोषणा की थी| पोंपियो के बयान के एक दिन बाद बुधवार को पुतिन का बयान आया|

पुतिन ने टेलीविजन पर दिए अपने बयान में कहा, ऐसा लगता है कि हमारे अमेरिकी सहयोगियों का मानना है कि स्थिति इतनी बदल गई है कि अमेरिका के पास इस प्रकार के हथियार होने चाहिए| उन्होंने कहा, हमारी प्रतिक्रया क्या होगी ? यह बहुत ही सरल है, उस मामले में हम भी वही करेंगे|

क्या है यह आईएनएफ संधि

आईएनएफ एक ऐसा समूह है, जो ज़मीन पर मध्यम दूरी की मिसाइलों के परीक्षण और तैनाती को रोकता है| दूसरे विश्व युद्ध की समाप्ति के बाद 1945 से 1989 के बीच में, अमरीका और रूस के बीच इस समझौते पर हस्ताक्षर किये गए थे| यह समझौता अमेरिका तथा रूस को 300 से 3,400 मील दूर तक मार करने वाली जमीन से छोड़े जाने वाली मिसाइल के निर्माण पर रोक लगाती है| इसमें सभी जमीन आधारित मिसाइलें शामिल है |

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image