अगस्ता के राज बढ़ाएंगे बवाल

0
16
AgustaWestland Scandal

राजएक्सप्रेस,भोपाल। अगस्ता वेस्टलैंड मामले के (AgustaWestland Scandal) बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाया गया है। माना जा रहा है कि क्रिश्चियन मिशेल कई सारे राज खोल सकता है। यह राज आने वाले दिनों में भारतीय राजनीति में भूचाल ला सकता है। अगस्ता का सारा सच जनता के सामने आना चाहिए।

अगस्ता वेस्टलैंड मामले के बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाया गया है। माना जा रहा है कि क्रिश्चियन मिशेल के आने से कई सारे राज खुल सकते हैं। मिशेल से सीबीआई राज उगलवाने में जुटी है। पूछताछ में वह उन नेताओं और नौकरशाहों के नाम उगल सकता है जिन्हें 36 सौ करोड़ के वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे के लिए कथित रूप से रिश्वत दी गई थी। मिशेल ने कुछ लोगों इस डील के दौरान घूस दी थी जिसके नाम उसने कोड वर्ड में लिखे थे उसका खुलासा यही कर सकता है। यूएई की सुरक्षा एजेंसियों ने फरवरी 2017 में मिशेल को गिरफ्तार किया था और इसके बाद से ही उसके प्रत्यर्पण की कोशिशें चल रही थीं। मिशेल को भारत प्रत्यर्पित कराने के लिए भारतीय एजेंसियों सीबीआई एवं प्रवर्तन निदेशालय ने यूएई का कई बार दौरा किया। इस दौरान एजेंसियों ने यूएई के अधिकारियों एवं कोर्ट के साथ घोटाले से जुड़े आरोपपत्र, गवाहों के बयान और अन्य साक्ष्य एवं दस्तावेज साझा किए थे।

वीवीआईपी हेलिकॉप्टर अगस्ता वेस्टलैंड सौदे को लेकर देश में समय-समय पर बवाल होता ही रहा है। अब एक बार फिर यह घोटाला सुर्खियों में छाया हुआ है। बता दें कि अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले का खुलासा होने के बाद यूपीए सरकार को विपक्ष ने घेर लिया था। सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर मांग की गई थी इस मामले में सोनिया गांधी तक के खिलाफ केस दर्ज किया जाए। अब बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल की भारत आमदगी ने भाजपा को फिर से कांग्रेस पर हमलावर होने का मौका दे दिया है। इटली की अदालत ने अगस्ता वेस्टलैंड कंपनी के प्रमुख ऊर्सी एवं हेलिकॉप्टर बनाने वाली कंपनी फिनमैकेनिका को रिश्वत देने व भारत के पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी को रिश्वत लेने का दोषी ठहराया है। फैसले में ‘सिग्नोरा’ गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, यूपीए सरकार के दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रहे एमके नारायणन के साथ दो और नेताओं का जिक्र है। इस फैसले के चलते देश में सियासी तापमान कभी नीचे नहीं गया है। अब जबकि मिशेल भारतीय जांच एजेंसियों के हवाले है, तो निश्चित रूप से उसके खुलासे हतप्रभ करने वाले होंगे।

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाने में उस समय कामयाबी हाथ लगी है, जब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी राफेल मुद्दे पर सीधे-सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगा रहे हैं और कह रहे हैं कि भाजपा सरकार ने अब तक का सबसे बड़ा घोटाला किया है। लेकिन अब भाजपा के हाथ अगस्ता वेस्टलैंड नाम का हथियार मिल गया है। सो, आने वाला समय राफेल और अगस्ता के बीच बड़े आरोप-प्रत्यारोप का जरिया बनेंगे। अगले साल की शुरुआत में लोकसभा चुनाव होने हैं, लिहाजा भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दल विदेशी सौदों को लेकर कभी खुद तो कभी सामने वाले को कटघरे में खड़ा करते नजर आएंगे। मगर जरूरी यह है कि दोनों ही मामलों का सच जनता के सामने आए।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image