Recipes:  साबूदाने की खीर (Sabudana Kheer) कैसे बनाए जानिए

0
33
Sabudana Kheer

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि साबूदाने की खीर (Sabudana Kheer) कैसे बनाई जाती हैं। वैसे तो साबूदाना खास तौर से व्रत में बनाया जाता हैं। क्या आप जानते हैं कि यह आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं। आपने कई बार साबूदाने की खीचड़ी, खीर, पापड़ या कचोड़ी बनाई होंगी। वैसे तो साबूदाने की खीर व्रत में बनाई और खाई जाती हैं, लेकिन आप इसे कभी भी बनाकर सबको खिला सकते हैं। इसका स्‍वाद बहुत ही स्‍वादिष्‍ट होता हैं। साबूदाने की खीर को बनाना बहुत ही आसान हैं। तो चलिए बनाए साबूदाने की खीर (Sabudana Kheer)।

साबूदाने की खीर (Sabudana Kheer) बनाने की आवश्‍यक सामग्री :

  • साबूदाना – 100 ग्राम
  • फुल क्रीम वाला दूध – 1 लीटर
  • चीनी (शक्‍कर) – 75 ग्राम
  • काजू – 12-13
  • बादाम – 12-13
  • किशमिश
  • केसर के धागे
  • इलायची
  • पिस्‍ता
  • पानी – आवश्‍यकतानुसार

Recipes:  साबूदाने की खीर (Sabudana Kheer) कैसे बनाए जानिएबनाने की विधि :

साबूदाने की खीर (Sabudana Kheer) बनाने के लिए सबसे पहले साबूदाने को अच्‍छी तरह धोकर कुछ देर के लिए पानी में भिगोकर रख दीजिए। जब तक साबूदाने फूल रहे हैं तब तक आप सारे सूखे मेवे (Dry Fruits) को बारीक पतला काट लीजिए। इलायची को छीलकर दाने का पाउडर बना लीजिए। केसर के धागों में थोडा़ सा दूध डाल कर रख दीजिए, इससे केसर अपना रंग छोड़ देता हैं। अब खीर बनाने के लिए एक बड़े बर्तन में दूध डालकर कर गैंस पर गर्म होने रख दीजिए। दूध में उबाल आने पर इसमें भीगा हुआ साबूदाना डाल दीजिए। तेज आंच पर लगातार चलाते हुए जब तक इसमें उबाल न आ जाए इसे चलाते हुए पकाएं।

साबूदाने की खीर (Sabudana Kheer) बनाने के लिए दूध में उबाल आने पर, इसमें किशमिश डाल दीजिए। थोड़े से बादाम, काजू और केसर वाला दूध भी डाल दीजिए और मिक्स कर दीजिए। दूध को मध्यम आंच पर गाढा़ होने तक पकाएं। खीर को बीच-बीच में चलाते भी रहें ताकि वह बर्तन के तले पर न लग पाए। अब खीर गाढी़ होकर तैयार है, इसमें चीनी और इलायची पाउडर डाल कर अच्छे से मिक्स कर दीजिए। खीर को कुछ मिनट और पकने दीजिए। अब आपकी गर्मागर्म साबूदाने की खीर (Sabudana Kheer) बनकर तैयार हैं। अब खीर को एक प्‍याले में निकाल लीजिए। खीर को बादाम, पिस्ते से गार्निश कीजिए और गर्मागर्म सर्व कीजिए।

सुझाव :

  • साबूदाना से दूध कभी-कभी खराब भी हो जाता हैं।
  • दूध को फटने से बचाने के लिए जब दूध में साबूदाना डालें तो दूध को लगातार चलाते हुए उबाले।
  • साबूदाना खीर को लगातार चलाते हुए बनाये ताकि खीर बर्तन में न लगे।

साबूदाना खाने के फायदे :

  1. यह खाने में काफी हल्‍का होता हैं और यह पेट की काफी समस्याएं दूर करता हैं।
  2. इसके सेवन से पेट की पाचन शक्ति ठीक होती हैं।
  3. व्रत में अक्सर शरीर में गर्मी बड़ जाती है। ऐसे में साबूदाने की खिचड़ी खाने से गर्मी दूर होती हैं।
  4. यह शरीर को ऊर्जावान भी भी बनाता हैं।
  5. साबूदाने का सेवन करने से ब्‍लड प्रैशर की समस्‍या नही होती हैं।
  6. इसमें काफी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होता है जो शरीर को ऊर्जा देता हैं।
  7. व्रत के दिनों में इसको खाने से शरीर की कमजोरी दूर होती हैं।
  8. गर्भावस्था के दौरान साबूदाना खाने से गर्भ में पल रहे बच्चे को काफी लाभ होता हैं।
  9. इसमें फोलिक एसिड और विटामिन-बी होता है जो शिशु के लिए बहुत फायदेमंद हैं।
  10. इसके सेवन से मांसपेशियों के दर्द से भी राहत मिलती हैं।
  11. साबूदाना वजन बढ़ाने में भी मददगार होता हैं।
  12. शरीर की थकावट दूर करने के लिए भी साबूदाना काफी फायदेमंद हैं।
  13. सेहत के साथ यह त्वचा को भी बहुत फायदा देता हैं।
  14. साबूदाने का फेसमास्क बनाकर लगाने से चेहरे की रंगत खिल उठती हैं।
  15. दस्त की वजह से कई बार शरीर में पानी की कमी हो जाती है। ऐसे में साबूदाने की खिचड़ी खाने से काफी फायदा होता है।

 

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image