भारतीय रिजर्व बैंक के इक्कीसवें गवर्नर वाई वी रेड्डी का जन्मदिन आज

0
12

भारतीय रिजर्व बैंक के पहले गवर्नर वाई वी रेड्डी (Y. V. Reddy) का जन्मदिन आजवाई वी रेड्डी (Y. V. Reddy) को भारतीय रिजर्व बैंक के इक्कीसवें गवर्नर के रूप में जाना जाता है। इन्होने भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर के रूप में 6 सितंबर 2003 से 5 सितंबर 2008 तक कार्य किया। रेड्डी भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास के विशिष्ट प्रोफेसर के रूप में भी प्रसिद्ध है। वह वैश्विक वित्तीय संकट में IMF की भूमिका के स्वतंत्र मूल्यांकन पर उच्चस्तरीय सलाहकार पैनल के सदस्य थे। अब इन्हे सिविल सेवक के रूप में जाना जाता है। इन्हे अपने द्वारा किये बहुत से योगदान के कारण भी जाना जाता है।

रेड्डी (Y. V. Reddy) का परिचय:

पूरा नाम : यागा वेणुगोपाल रेड्डी
जन्म : 17 अगस्त 1941
जन्म स्थान : कडापा, वाईएसआर जिला, आंध्र प्रदेश
शिक्षा : उन्होंने मद्रास यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में एम.ए. किया, उसके बाद उन्होंने उस्मानिया विश्वविद्यालय, हैदराबाद से पीएचडी की पढ़ाई की। इन्होने नीदरलैंड की एक सोशल स्टडीज संस्थान से आर्थिक योजना में डिप्लोमा भी किया।
कार्य: RBI के इक्कीसवें गवर्नर (2003-2008)
सम्मान:
1. रेड्डी को भारत के श्री वेंकटेश्वर विश्वविद्यालय द्वारा डॉक्टर ऑफ लेटर्स की डिग्री से सम्मानित किया गया था।
2. मॉरीशस विश्वविद्यालय द्वारा डॉक्टर ऑफ सिविल लॉ से सम्मानित किया गया।
3. लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स के द्वारा 17 जुलाई 2008 को उन्हें मानद फेलो बना कर सम्मान दिया गया था।
4. उन्हें भारत का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान- पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया गया।

कार्यकाल जीवन (शुरुआत से वर्तमान तक):
  • रेड्डी (Y. V. Reddy) IAS में शामिल होने से पहले 1961 से एक प्रवक्ता के रूप में कार्य करते थे।
  • IAS में शामिल होने के बाद उन्होंने वित्त मंत्रालय और आंध्र प्रदेश सरकार के प्रधान सचिव में सचिव के पदों पर कार्य किया और चीन, बहरीन, इथियोपिया और तंजानिया सरकारों के साथ काम किया है।
  • वेणुगोपाल रेड्डी को 1996 में, भारतीय रिजर्व बैंक(RBI) का डिप्टी गवर्नर नियुक्त किया गया।
  • 2002 में उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के कार्यकारी निदेशक के रूप में काम किया।
  • भारतीय रिजर्व बैंक के इक्कीसवें गवर्नर के रूप में 6 सितंबर 2003 को नियुक्त किया गया।
  • इन्होने गवर्नर के पद पर पांच साल अर्थात 5 सितंबर 2008 तक कार्य किया।
  • रेड्डी ने विज़िटिंग फेलो, लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, बिजनेस मैनेजमेंट विभाग, उस्मानिया विश्वविद्यालय में पूर्णकालिक यूजीसी विज़िटिंग के साथ ही प्रशासनिक स्टाफ कॉलेज ऑफ इंडिया और हैदराबाद में इकोनॉमिक एंड सोशल स्टडीज सेंटर में एक प्रोफेसर के रूप में भी कार्य किया।
  • 2011 में रेड्डी को द इंडियन इकोनॉमेट्रिक सोसाइटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया।
  • रेड्डी को न्यू इकोनॉमिक थिंकिंग के सलाहकार बोर्ड ऑफ इंस्टीट्यूट बोर्ड के रूप में भी सुना गया। इसके अलावा ये भारतीय आर्थिक नीतियों, कोलंबिया विश्वविद्यालय, न्यूयॉर्क पर कोलंबिया कार्यक्रम के अंतर्राष्ट्रीय सलाहकार बोर्ड के लिए भी कार्य करते थे।
  • रेड्डी को 2014 के तहत इंडियन इकोनॉमिक एसोसिएशन (IEA) के सम्मेलन के अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित किया गया।
  • 3 जनवरी 2013 से यह भारत के चौदहवें वित्त आयोग अध्यक्ष बन गए।
  • वर्तमान में रेड्डी हैदराबाद में सेंटर फॉर इकोनॉमिक एंड सोशल स्टडीज (CES) में मानद प्रोफेसर के रूप में कर्यरत हैं।
  • वह न्यू इकोनॉमिक थिंकिंग (INET) के सलाहकार बोर्ड संस्थान में भी थे।
No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image