CM ने ‘जन-आशीर्वाद यात्रा’ में कांग्रेस पर किया प्रहार, कहा- वेश्याएं भी बहन-बेटी होती हैं मैं तो उनके भी चरण धोऊंगा

0
18
Jan Ashirwad Yatra

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आगर जिले के नलखेड़ा में शनिवार को अपनी ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ (Jan Ashirwad Yatra) के दौरान आयोजित विशाल जनसभा को संबोधित किया।

CM शिवराज ने अपने सम्बोधन में क्या कहा….

विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए CM शिवराज सिंह चौहान ने अपने विचार व्यक्त किये, उन्होंने कहा कि, मुझे वेश्या कहने वाले कांग्रेसी यह ठीक से समझ लें कि, किसी न किसी मजबूरी में वेश्यावृत्ति के धंधे में फंसने वाली महिलाएं भी किसी की मां होती हैं, किसी की बहन होती है, किसी की बेटी होती हैं। उनकी मजबूरी से उपजी परिस्थितियों का उपहास उड़ाकर कांग्रेस के लोग मानवता के प्रति अपराध कर रहे हैं। मेरे लिए तो वह सभी महिलाएं भी आदर की पात्र हैं, जिन्होंने जिंदगी की जद्दोजहद में इस दल- दल में पैर रखें है, इसलिए भारतीय जनता पार्टी उन सभी महिलाओं का भी सम्मान करती है और मैं तो उनके भी चरण धोऊंगा।

उल्लेखनीय है कि, विगत दिनों कांग्रेस के एक विधायक ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा को लेकर बेहद गंभीर और अभद्र टिप्पणी की थी। उस टिप्पणी से आहत शिवराज सिंह को हजारों लोगों के सामने यह जवाब देना पड़ा। इससे पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ मुख्यमंत्री के प्रति अशिष्ट भाषा का प्रयोग कर चुके हैं।

शनिवार को कानड़ पहुंचे मुख्यमंत्री 

CM शिवराज सिंह चौहान ने ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ के अंतर्गत शनिवार को हेलीकॉप्टर से आगर जिले के कानड़ पहुंचे। यहां हेलीपेड पर मुख्यमंत्री के स्वागत के लिए भारी भीड़ जमा थी। सांसद मनोहर ऊंटवाल, विधायक गोपाल परमार, सुसनेर विधायक मुरलीधर पाटीदार, जिला अध्यक्ष दिलीप सकलेचा सहित पार्टी के वरिष्ठ नेतागण, पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री की अगवानी की।

नर पिशाचों को दिलाएंगे फांसी की सजा

कानड़ में विशाल जनसभा को संबोधित करने के बाद मुख्यमंत्री सड़क मार्ग से नलखेड़ा पहुंचे। CM शिवराज ने कहा- मां, बहन और बेटियां मेरे लिए देवियां हैं। मेरी बेटियां कमजोर नहीं है। उन्होंने कहा कि, जो लोग बेटियों को गलत नजर से देखते हैं, उनको धरती पर रहने का कोई हक नहीं है। बच्चियों के साथ दरिंदगी करने वाले नर पिशाचों को फांसी पर लटका दिया जाएगा।

जनता के सामने कांग्रेस दे 50 सालों का हिसाब

नान्याखेड़ी में आयोजित जनसभा में मुख्यमंत्री जी ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि, कांग्रेस ने प्रदेश को अंधेरे में डुबा दिया था। सड़कें गड्ढों से भरी थी और प्रदेश के लोग पानी के लिए भी तरस रहे थे। उन्होंने सभा में उपस्थित लोगों से पूछा कि, जब शिवराज सिंह चौहान प्रदेश में बिजली, पानी और सड़क ला सकता है, तो 50 सालों में कांग्रेस क्यों प्रदेश का विकास नहीं कर पाई। मुख्यमंत्री ने कहा कि, कांग्रेस को जनता के सामने 50 सालों का हिसाब देना होगा। CM शिवराज सिंह चौहान ने गरीबी हटाने के लिए कांग्रेस के नेताओं को सीख देने कि बात कहते हुए कहा कि, अगर गरीबी हटाना है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह चौहान से सीखें।

बच्चों ने मामा कहकर किया अभिवादन

ग्राम पचलाना में भारतमाता और क्रांतिकारियों की वेशभूषा में सजे सरस्वती स्कूल के बच्चे भी मुख्यमंत्री के स्वागत के लिए खड़े हुए थे। मुख्यमंत्री का रथ जब यहां से गुजरा तो बच्चों ने मामा- मामा कहकर उनका अभिवादन किया। नन्हें बच्चों के इस आत्मीय अभिवादन से अभिभूत मुख्यमंत्री रथ से उतरकर भांजे-भांजियों से मिलने के लिए उनके बीच पहुंचे, इस दौरान मुख्यमंत्री ने बच्चों से उनका नाम पूछा और उन्हें दुलार किया। इस अवसर पर पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान, प्रदेश महामंत्री अजय प्रताप सिंह, सांसद रोडमल नागर, राजपाल सिसौदिया, गोविंद मालू, जगदीश अग्रवाल और अम्बाराम कराड़ा सहित पार्टी पदाधिकारी मौजूद थे।

कांग्रेसी मित्रों को उनकी गालियां मुबारक

नलखेड़ा पहुंचने पर CM शिवराज सिंह चौहान ने सबसे पहले मां बगुलामुखी के मंदिर में पहुंचकर आशीर्वाद लिया। इसके उपरांत आयोजित जनसभा में मुख्यमंत्री जी ने कहा कि, कांग्रेस के लोग मुझे रोज गालियां देते रहते हैं। न जाने क्यों वो इतने बौखलाए हुए हैं, कांग्रेस के नेता कभी मुझे नालायक, तो कभी मदारी कहते हैं। – मैं उनसे कहना चाहता हूं कि, हां मैं मदारी हूं तभी तो डमरू बजाकर गरीबों की बिजली का बिल जीरो कर दिया।

CM शिवराज सिंह चौहान ने आगे कहा कि, कांग्रेस के नेता अब कहते है कि, शिवराज सिंह वेश्या है। उन्होंने जनता से पूछा कि कांग्रेस नेताओं की यह भाषा क्या दर्शाती है। क्या ये हमारे भारतीय संस्कार हैं, मुख्यमंत्री ने कांग्रेस नेताओं को इस आक्षेप का जवाब देते हुए कहा की कांग्रेस के नेताओं ने मुझे वेश्या कहा है, लेकिन शिवराज सिंह चौहान वेश्याओं को भी अपनी बहन मानता है। उनके भी पांव धोएगा। मैं नारी जाति का सम्मान करता हूं, इज्जत करता हूं। किसी मजबूरी में ऐसे दल- दल में फंसी बहनों को भी दल-दल से निकालूंगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, जिस तरह स्वामी विवेकानद और स्वामी रामकृष्ण परमहंस ने वेश्या को मां कहा था, मेरे लिए भी वह मां है, बहन है और बेटी हैं। मैं माताओ,बहनों और बेटियों का सम्मान कम नहीं होने दूंगा।

राजगढ़ में जनसभा को किया संबोधित

CM शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार देर रात राजगढ़ में भी अपनी ‘जन-आशिर्वाद यात्रा’ के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस की पूर्व प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधाते हुए कहा कि, कांग्रेस के राज में राजगढ़ जिला बूंद- बूंद पानी को तरस रहा था। प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने मोहनपुरा में डेम बनाकर जिले के किसानों और नागरिकों के चेहरे पर खुशहाली ला दी है।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image