एक नजर डालें वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में वाहन निर्माता कंपनियों के मुनाफे पर

0
12

एक नजर डालें वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में वाहन निर्माता कंपनियों के मुनाफे(Profit) परभारत में कई कंपनियों को साल 2018-19 की अप्रैल-जून की तिमाही में मुनाफा और घाटा (First Quarter 2019 Results) हुआ। आइये जाने इन कंपनियों मे से भारत की प्रसिद्ध वाहन निर्माता कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा, आयशर मोटर्स, TVS, बजाज और BEML का मुनाफा, आय, वाहन बिक्री और ई.बी.आई.टी.डी.ए.।

  • महिंद्रा एंड महिंद्रा का मुनाफा, आय, ई.बी.आई.टी.डी.ए और कारोबार की बिक्री:
महिंद्रा एंड महिंद्रा का मुनाफा:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी को 1,257 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ जो पिछले साल की तुलना में 67.2 फीसदी बढ़कर हुआ है। जो पिछले साल 752 करोड़ रुपये रहा था।

महिंद्रा एंड महिंद्रा की आय:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में महिंद्रा एंड महिंद्रा की आय में 22.8 फीसदी बढ़ोतरी दर्ज की गई अर्थात कंपनी की आय 13,358 करोड़ रुपये हो गई। जो पिछले साल 10,877.5 करोड़ रुपये थी।

महिंद्रा एंड महिंद्रा का ई.बी.आई.टी.डी.ए:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में महिंद्रा एंड महिंद्रा का ई.बी.आई.टी.डी.ए बढ़ोतरी के साथ 13.2 फीसदी अर्थात 2,110 करोड़ रुपये रहा। जो पिछले साल 1,434 करोड़ रुपये अर्थात 13.2 फीसदी रहा था।

महिंद्रा एंड महिंद्रा के फार्म इक्विपमेंट कारोबार की बिक्री:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में महिंद्रा एंड महिंद्रा के फार्म इक्विपमेंट कारोबार की बिक्री में 24.2 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। यह बढ़ कर 5,007 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। जो पहले 4,032 करोड़ रुपये थी। इसी के साथ कंपनी के फॉर्म इक्विपमेंट कारोबार का एबिट बढ़कर 1,045 करोड़ रुपये रहा। जो पहले 742 करोड़ रुपये था।

महिंद्रा एंड महिंद्रा के ऑटोमोटिव कारोबार की बिक्री:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में महिंद्रा एंड महिंद्रा के ऑटोमोटिव कारोबार की बिक्री में 22.6 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। यह बढ़ कर 8,033 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। जो पहले 6,552 करोड़ रुपये थी। इसी के साथ कंपनी के फॉर्म इक्विपमेंट कारोबार का एबिट बढ़कर 757 करोड़ रुपये रहा। जो पहले 447 करोड़ रुपये था।

  • आयशर मोटर्स का मुनाफा, आय और ई.बी.आई.टी.डी.ए:
आयशर मोटर्स का मुनाफा:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में आयशर मोटर्स का मुनाफा 576.2 करोड़ रुपये रहा है। जो पिछले साल 459.6 करोड़ रुपये रहा था। कंपनी का मुनाफे में 25.4 फीसदी बढ़ोतरी हुई है।

आयशर मोटर्स की आय:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में आयशर मोटर्स की आय 2,547.8 करोड़ रुपये रही है। जो पिछले साल 2000.6 करोड़ रुपये रही थी। कंपनी की आय में 27.4 फीसदी बढ़ोतरी हुई है।

आयशर मोटर्स का ई.बी.आई.टी.डी.ए:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में आयशर मोटर्स का ई.बी.आई.टी.डी.ए 809.7 करोड़ रुपये रहा है। जो पिछले साल 620.6 करोड़ रुपये थी अर्थात कंपनी का ई.बी.आई.टी.डी.ए 31 फीसदी से बढ़कर 31.8 फीसदी रहा।

  • TVS कंपनी का मुनाफा, आय, एबिटडा और मोटरसिकिल बिक्री:
TVS कंपनी मुनाफा:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में TVS कंपनी को 146.6 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ। जो पिछले साल 129.5 करोड़ रुपये रहा था अर्थात कंपनी को 13.2 फीसदी का मुनाफा हुआ।

TVS कंपनी की आय:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में TVS कंपनी की आय में 22.2 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ दर्ज की गई है अर्थात कंपनी की आय 4,153.7 करोड़ रुपये हो गई। जो पिछले साल 3,399.5 करोड़ रुपये थी।

TVS कंपनी का ई.बी.आई.टी.डी.ए:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में TVS कंपनी का ई.बी.आई.टी.डी.ए बढ़कर 306.4 करोड़ रुपये हो गया। जो पिछले साल 211.4 करोड़ रुपये था। इसके अलावा ई.बी.आई.टी.डी.ए मार्जिन एबिटडा मार्जिन 6.2 फीसदी से बढ़कर 7.4 फीसदी रहा।

TVS कंपनी की मोटरसाइकिल बिक्री:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में TVS कंपनी की मोटरसाइकिल बिक्री 17 फीसदी बढ़कर 3.87 लाख यूनिट रही है। जी पिछले साल 3.30 लाख यूनिट थी। इसके अलावा कंपनी की स्कूटर बिक्री 12 फीसदी बढ़कर 2.88 लाख यूनिट रही है। जो पिछले साल 2.58 लाख यूनिट थी।

  • बजाज इलेक्ट्रिकल्स का मुनाफा, आय, ई.बी.आई.टी.डी.ए:
बजाज इलेक्ट्रिकल्स का मुनाफा:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बजाज कंपनी को 40.5 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ। जो पिछले साल 20.5 करोड़ रुपये रहा था। कंपनी का मुनाफा 97.9 फीसदी बड़ा है।

बजाज इलेक्ट्रिकल्स की आय:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बजाज कंपनी की आय 21.6 फीसदी बढ़कर 1,139 करोड़ रुपये हो गई। जो पिछले साल 937.6 करोड़ रुपये थी।

बजाज इलेक्ट्रिकल्स का ई.बी.आई.टी.डी.ए:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बजाज कंपनी ई.बी.आई.टी.डी.ए 79.9 करोड़ रुपये रहा। जो पिछले साल 22.3 करोड़ रुपये था। इसकी के साथ वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बजाज कंपनी का ई.बी.आई.टी.डी.ए मार्जिन 7 फीसदी रहा। जो पहले 2.5 फीसदी रहा था।

  • BEML का घाटा, आय और ई.बी.आई.टी.डी.ए: 
BEML का घाटा: 

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में BEML कंपनी को 160.3 करोड़ रुपये का घाटा हुआ जो। कंपनी को पिछले साल 85.1 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।

BEML की आय:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में BEML कंपनी की आय 28 फीसदी घटकर 454 करोड़ रुपये हो गई। जो पिछले साल 637.1 करोड़ रुपये थी।

BEML का ई.बी.आई.टी.डी.ए:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में BEML कंपनी ई.बी.आई.टी.डी.ए 137 करोड़ रुपये के साथ घाटे में रहा। जो पिछले साल 63.5 करोड़ रुपये था।

  • वाहन कलपुर्जे बनाने वाली दिग्गज बॉश का मुनाफा, आय, निर्यात और कुल खर्च:
बॉश का मुनाफा:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बॉश का मुनाफा 42.42 प्रतिशत बढ़कर 430.98 करोड़ रुपये हो गया। जो पिछले साल 302.61 करोड़ रुपये था।

बॉश का आय:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बॉश का आय 3,212.15 करोड़ रुपये हो गई। जो पिछले साल 2,830.44 करोड़ रुपये था।

बॉश का निर्यात: 

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बॉश का घरेलू बिक्री में 21.7 प्रतिशत और निर्यात में 7.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई। साथ ही वाहन समाधान (मोबिलिटी सॉल्यूशंस) कारोबार 20.5 प्रतिशत बढ़ा है।

बॉश का कुल खर्च:

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में बॉश का कुल खर्च 2498.16 करोड़ रुपये से बढ़कर 2,677.89 करोड़ रुपये हो गया।

5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image