11 मई को भारत  ताकतवर परमाणु परीक्षण कर शक्तिशाली देश बना

0
46
National Technology Day-11 मई को भारत ताकतवर परमाणु परीक्षण कर शक्तिशाली देश बना

भारत में हर साल 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (National Technology Day)  मनाया जाता हैं। आदिकाल से ही मानव तकनीक का उपयोग करता आ रहा है। लेकिन आज मानव अधिकतर कार्यों के लिए टेक्नॉलॉजी पर निर्भर रहता हैं, क्योंकि टेक्नॉलॉजी ने मानव के कार्य को आसान और श्रेष्ठ बना दिया हैं। अगर टेक्नॉलॉजी नहीं होगी तो हमें दूरसंचार, कारोबार, शिक्षा, इलाज और आवागमन के साधनों में काफी कठिनायों का समाना करना पड़ सकता हैं। किसी भी देश के विकास के लिए टेक्नॉलॉजी का बहुत अधिक महत्व होता हैं। इस वजह से भारत का केंद्रीय मंत्रालय टेक्नॉलॉजी को बढ़ावा देने के लिए हर साल राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस का आयोजन करता हैं।

National Technology Day-11 मई को भारत ताकतवर परमाणु परीक्षण कर शक्तिशाली देश बनाराष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस का इतिहास

वर्ष 1998 में आज के ही दिन यानि 11 मई को भारत ने अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्रित्व काल में अपना दूसरा सफल परमाणु परीक्षण किया था। यह परमाणु परीक्षण राजस्थान के पोखरण में किया गया था। इसके दो दिन बाद ही 13 मई को दो और परमाणु परीक्षण किए गए। इसमें त्रिशूल मिसाइल और “हंस 3” (एयरक्राफ्ट) का परीक्षण किया। इन परीक्षण के बाद वाजपेयी जी ने भारत को परमाणु शक्ति से लैस देश घोषित कर दिया था और इस ऑपरेशन को शक्ति का नाम दिया गया।

इस तरह भारत परमाणु शक्ति में शामिल होने वाले देशों में छटवां देश बन गया। प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक बड़ी सफलता प्राप्त करने के बाद वाजपेयी जी ने 1999 में राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मानाने की घोषणा की। इस दिन देश के पहले स्वदेशी एयरक्राफ्ट को बेंगलुरु की हवाई पट्टी से उड़ाया गया था। तभी से भारत में 11 मई को National Technology Day सेलिब्रेट किया जाता हैं।

National Technology Day-11 मई को भारत ताकतवर परमाणु परीक्षण कर शक्तिशाली देश बनावैज्ञानिकों और प्रौद्योगिकीविदों को पुरस्कृत किया जाता

हर साल 11 मई को भारत के तकनीकी विकास बोर्ड द्वारा उत्कृष्ट उपलब्धियों के लिये वैज्ञानिकों और प्रौद्योगिकीविदों को पुरस्कार दिया जाता है। इस पुरस्कार के तहत 10 लाख रुपये और ट्राफी भी दी जाती है। इस दिन हमारे देश की ताकत, कमज़ोरियों और लक्ष्यों पर विचार किया जाता है, जिससे प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में देश को सही जानकारी प्राप्त हो सके। नेशनल टेक्नोलॉजी डे पर देशभर में विज्ञान और प्रौद्योगिकी सफलता का जश्न मनाया जाता हैं। इससे भारत की प्रौद्योगीकीय क्षमता के विकास को बढ़ावा भी मिलता हैं। परमाणु परीक्षण की सफलता पर भारत के लोगो ने भरपूर खुशी मनाई थी।

भारत ने परीक्षण कर पूरी दुनिया को चौंका दिया

हमारे भारत देश में प्रतिभा और क्षमता की कोई कमी नहीं है। वर्ष 1997 के पहले भारत प्रौद्योगिकी  क्षेत्र में पिछड़ा हुआ था। लेकिन वर्ष 1998 में भारत ने परमाणु परीक्षण कर पूरी दुनिया को चौंका कर रख दिया था। भारत ने न सिर्फ सफल परीक्षण कर अपनी प्रौद्योगिकी का प्रदर्शन किया, बल्कि अपने इस परीक्षण के बारें दुनिया को भनक तक नहीं लगने दी थी। भारत के परमाणु परीक्षण पर कुछ देशों ने तीखी प्रतिक्रिया भी दी थी। अमेरिका जैसे देश तो इस परीक्षण पर भड़क ही गए थे। सिर्फ इजरायल ही एक ऐसा देश था, जिसने भारत के परीक्षण का समर्थन किया था। भारत के सफल परमाणु परीक्षण का श्रेय अटल बिहारी वाजपेयी और मिसाइलमैनअब्दुल कलाम जी को जाता हैं। अब्दुल कलाम जी के शानदार मार्गदर्शन द्वारा ही सभी परीक्षणों का सफलता पूर्वक टेस्ट किया गया था।

National Technology Day-11 मई को भारत ताकतवर परमाणु परीक्षण कर शक्तिशाली देश बनाइस प्रकार किया परीक्षण

भारत ने परमाणु परीक्षण से पहले दुनियाभर के जासूसों का ध्यान हटाने के लिए कई सारे रॉकेट, मिसाइलें, और बम छोड़ें ताकि किसी को भी इस परीक्षण की भनक न लगें। इस दिन सभी को आर्मी की ड्रेस में परीक्षण स्थल पर ले जाया गया था और अब्दुल कलाम जी भी सेना की वर्दी में वहां पर उपस्थित थे। खुफिया एजेंसियों को ऐसा लगे कि, आर्मी के जवान वहां ड्यूटी पर हैं। कलाम जी को कर्नल पृथ्वीराज का छद्म नाम दिया गया था। वह कभी समूह में टेस्ट साइट पर नहीं जाते थे। बताया जाता है कि तड़के 3 बजे परमाणु परीक्षण किया गया था। भारत के परीक्षण करने के ठीक 17 दिन बाद पाकिस्तान ने चगाई-1 और चगाई- 2 के नाम से परमाणु परीक्षण किए थे।

National Technology Day मनाने के उद्देश्य

  • पोखरण परमाणु बम के सफल परीक्षण को याद करना
  • त्रिशूल मिसाइल की सफलता के रूप में याद करना
  • हंस-3 का सफल परीक्षण
  • वैज्ञानिकों को नाम और सम्मान देना
  • नए रिसर्च सेंटर या प्लेटफार्म देना
  • प्रौद्योगिकी विकास को बढ़ावा देना
5/5 (1)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image