ईरान के तेल टैंकर में विस्फोट जारी, जापान की जल सीमा में पहुंचा

0
21
ईरान के तेल टैंकर में विस्फोट जारी, जापान की जल सीमा में पहुंचा

टोक्यो। ईरानी तेल टैंकर सांची में लगी भयंकर आग और उसमें लगातार हो रहे विस्फोटों से आग बुझाने और लाेगों को निकालने के प्रयासों में बाधा आ रही है। आग की तेज लपटों से जहाज के टूटने और उसके डूबने की आशंका भी बनी हुई है। ईरान का जलता तेल टैंकर तेज हवा के थपेड़ों से पानी में तैरता हुआ जापान की जल सीमा में आ गया है। जिस इलाके में जलता हुआ जहाज आया है, वह जापान के विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र (ईएफजेड) के नजदीक पड़ता है। यह स्थान चीन की जल सीमा के नजदीक आता है। जापानी तटरक्षक बल के प्रवक्ता ने इसकी जानकारी दी है।

चीन की जल सीमा के नजदीक शनिवार रात ईरान का तेल टैंकर अमेरिका से खाद्यान्न ला रहे जहाज से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। दुर्घटना के बाद 1,36,000 टन अति ज्वलनशील तेल भरे इस टैंकर में आग लग गई। इस टैंकर के 32 सदस्यीय चालक दल के सदस्यों में से केवल एक की लाश बरामद की जा सकी है, बाकी अभी लापता हैं।

दो दिन पहले इस टैंकर एक हिस्से में विस्फोट हुआ था। इससे बड़ी मात्रा में तेल समुद्र तल पर फैल गया था। तेल जलने से उठ रहे धुएं से भी इलाके के पर्यावरण को बड़ा नुकसान पहुंच रहा था। तेज हवा और धुएं के गुबार से टैंकर में लगी आग बुझाने में सफलता नहीं मिल सकी। कई दिन से नजदीकी समुद्र में चालक दल के सदस्यों की तलाश का अभियान चल रहा है।

इलाके में चल रही तेज हवा से बुधवार को रात में जहाज पानी के बहाव के साथ जापान की जल सीमा में दाखिल हो गया। जहाज ने दो दिन में करीब 25 मील की दूरी तय की। अब जबकि जलता हुआ जहाज जापानी क्षेत्र में पहुंच गया है तब चीन ने बचाव व राहत कार्य से अपने हाथ खींच लिए हैं। चीन सरकार ने कहा है कि राहत में सहयोग का प्रस्ताव देने का उसका फिलहाल इरादा नहीं है।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here