चीन में उइगर मुस्लिमों को होटल में ठहराने पर सरकार ने लगाया जुर्माना

0
8

बीजिंग। चीन ने शिनजियांग प्रांत के उइगर मुसलमानों के खिलाफ कड़े सुरक्षा नियम बनाए हैं। इसके तहत 18 अक्टूबर से शुरू हो रही कम्युनिस्ट पार्टी कांग्रेस से पहले देशभर के किसी भी होटल में यहां के मुसलमानों को ठहरने की अनुमति नहीं होगी। इस नियम को तोड़ने पर दक्षिण चीन प्रशासन ने एक होटल पर जुर्माना भी लगाया है। शिनजियांग प्रांत में मुस्लिम बहुत अधिक हैं और चीन सरकार आतंकवाद और कट्टरपंथ को बढ़ावा देने के लिए उइगर मुसलमानों को ही जिम्मेदार मानती है। इसी के मद्देनजर यह कार्रवाई की गई है। रेडियो फ्री एशिया के अनुसार शेनजेन होटल ने इस बात की पुष्टि की है कि 7 Days inn को शिनजियांग के आगंतुकों को अपने यहां ठहराने के लिए जुर्माना देना होगा। कानून को तोड़ने के लिए होटल पर 15,000 युआन का जुर्माना लगा है। होटल के एक कर्मचारी ने कहा है कि डेटाबेस शेयर करके पुलिस को पूरी जानकारी दी जाएगी। पुलिस किसी भी मेहमान को वीटो कर सकती है, जिससे उसे खतरा महसूस होगा।
फिलहाल इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि यह बैन सिर्फ स्थानीय होटलों पर ही लगाया गया है या घरेलू/इंटरनेशनल होटल भी इसके दायरे में आते हैं। खबरों के अनुसार चीन की सरकार को डर है कि इस्लामिक कट्टरपंथी हिंसक गतिविधियों को अंजाम दे सकते हैं। जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि उइगर मुसलमान अक्सर चीन की सरकार पर अपने खिलाफ भेदभाव का आरोप लगाते रहे हैं। शिनजियांग प्रांत की आबादी में एक बड़ा हिस्सा उइगर मुसलमानों का है। बीते कुछ सालों में हुए हमलों में इस प्रांत में सैकड़ों लोग मारे जा चुके हैं। इस्लामिक स्टेट (IS) ने इन्हीं उइगर मुस्लिमों का दमन किए जाने के आरोपों के मद्देनजर चीन को चेतावनी दी है। पिछले मार्च में चीन ने इसी क्षेत्र में अपनी सैन्य क्षमता का नजारा पेश किया था। पश्चिमी शिनजियांग में हुए इस सैन्य अभ्यास में दस हजार से ज्यादा हथियारबंद सुरक्षाकर्मी, बख्तरबंद गाड़ियों की लंबी कतारें और हेलिकॉप्टर्स नजर आए थे।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here