CM योगी ने राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा- कांग्रेस-राहुल विनाश के दूत गुजरात में करो सफाया

0
25

वलसाड। उप्र के मुख्यमंत्री तथा वरिष्ठ भाजपा नेता योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस और इसके उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर आज जबरदस्त हमला बोलते हुये उन्हें विनाश का प्रतीक बताया और उप्र की तरह गुजरात से भी उनका पूरी तरह सफाया करने की लोगों से अपील की ।
योगी आदित्य नाथ ने गुजरात में आज वलसाड और पारडी में चुनाव सभाओं को संबोधित करते हुये कांग्रेस और श्री राहुल गांधी को राज्य मुठभेड में मारी गयी इशरत जहां जैसी आतंकवादी का समर्थन करने वाला और ‘विनाश का दूत’ करार दिया तथा कहा कि प्रदेश की जनता उन्हें इस बार ऐसी करारी शिकस्त दे जिसे वे कभी भुला नहीं सके।
भाजपा की गुजरात गौरव यात्रा में भाग लेने आये श्री योगी ने अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान दक्षिण गुजरात में चुनावी सभाओं में कांग्रेस नेताओं पर निशाना साधते हुये कहा,‘आज वे विकास की बात कर रहे हैं जिन्होंने 70 साल में देश के लिए कुछ नहीं किया। जिन्होंने केवल अपने परिवार और बिचौलियों का ही विकास किया। गुजरात में 2001 के भूकंप के समय कांग्रेस गायब हो गयी थी। हाल में सौराष्ट्र और उत्तर गुजरात में बाढ़ के दौरान व्यापक तबाही के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और अमित शाह तो यहां आये पर राहुल गांधी इटली भाग गये। उस समय उन्हें गुजरात की याद नहीं आयी। राहुल, उनकी दादी इंदिरा गांधी और पिता राजीव गांधी समेत उनकी तीन पीढियों का क्षेत्र अमेठी और रायबरेली रहा है। 2004 से 2014 तक गांधी परिवार के इशारे पर ही बोलने वाले मनमोहन सिंह की अगुवाई में यूपीए का 10 साल तक शासन था पर इसके बावजूद वह अमेठी में कलेक्टर कार्यालय नहीं बना पाये थे। इससे ही पता चलता है कि वह कितना विकास कर सकते हैं।‘
श्री योगी ने कहा,‘कांग्रेस और राहुल गुजरात में विकास की बात करते हैं पर वह विकास के नहीं विनाश के प्रतीक हैं। जब इशरत जहां जैसी आतंकवादी मारी गयी थी, तो वे उसका समर्थन करने गुजरात पहुंचे थे। वे विकास के दूत नहीं बल्कि विनाश के दूत हैं और ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है।’उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने गांधीजी का अपमान किया और उनकी विचारधारा को भी नष्ट करने का प्रयास किया। आजादी के बाद उन्होंने कांग्रेस को समाप्त करने को कहा था पर कांग्रेस ने उनकी बात नहीं मानी। गुजरात के बेटे नरेन्द्र मोदी ने देश को कांग्रेस मुक्त करने का अभियान शुरू किया है और मैं आप सबसे अपील करता हूं कि इसकी शुरूआत राज्य में होने वाले चुनाव में इसका सफाया कर करें। हमने उत्तर प्रदेश में तो इसका सफाया कर दिया है। अब 80 में वहां केवल दो कांग्रेस सांसद हैं और वहां विधानसभा में मात्र सात पार्टी विधायक हैं। वे भी अगले चुनाव में नहीं जीतेंगे।‘
मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली गुजरात यात्रा पर आये योगी ने कहा कि वैसे तो पूरे देश में यह चर्चा हैं कि राहुल जहां भी चुनाव प्रचार के लिए जाते हैं वहां कांग्रेस हारती ही है। इस तरह गुजरात में भी कांग्रेस की हार तो निश्चित है पर इस बार ऐसी हार होनी चाहिए कि इसे याद रहे।
उत्तर प्रदेश में लागू करेंगे गुजरात माडल
वरिष्ठ भाजपा नेता CM योगी आदित्यनाथ ने गुजरात के विकास कार्यों की सराहना करते हुए आज कहा कि वह अपने राज्य में भी गुजरात मॉडल लागू करेंगे। योगी आदित्य नाथ ने गुजरात में आज कहा कि गुजरात में विकास की गाथा श्री नरेन्द्र मोदी ने लिखी है और यह भाजपा के शासन में सबसे अधिक प्रति व्यक्ति आय वाला (14000 से बढ़कर एक लाख 41 हजार से अधिक) वाला राज्य बन गया। यह सबसे विकसित राज्य है और रोजगार देने के मामले में सबसे अव्वल है।
उन्होंने कहा ‘मैं भी गुजरात की इस विकास गाथा से उत्तर प्रदेश को जोडूंगा और वहां भी गुजरात मॉडल लागू करूंगा, ताकि वहां के युवाओं को रोजगार और सम्मान की जिंदगी मिल सके। गुजरात में परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण जैसी बाते नहीं हैं और यहां राष्ट्रीय सुरक्षा के कदम और विकास साथ-साथ आगे बढ़ रहे हैं।’
उप्र का मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार गुजरात की यात्रा पर आये योगी ने राज्य की जनता से उप्र की तरह गुजरात में भी कांग्रेस का सफाया करने की अपील की। उन्होंने कहा कि वैसे तो पूरे देश में यह चर्चा हैं कि राहुल गांधी जहां भी चुनाव प्रचार के लिए जाते हैं वहां कांग्रेस हारती ही है। इस तरह गुजरात में भी कांग्रेस की हार तो निश्चित है पर इस बार ऐसी हार होनी चाहिए कि जिसे वह भुला नहीं सके।
श्री योगी ने कांग्रेस पर देश को अपूरणीय क्षति पहुंचाने और देश के एकीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले सरदार पटेल का भी अपमान करने का आरोप लगाया। उन्होंन कहा कि जिस सरदार ने हैदराबाद के नवाब को झुकाया था और जूनागढ का नवाब जिनके डर से पाकिस्तान भाग गया था, उन्हे 41 साल तक भारतरत्न नहीं दिया गया। जब ऐसा किया गया तो भी वह अटल जी के प्रस्ताव पर हुआ। जबकि नेहरूजी को पहले ही इसे दे दिया गया था और इंदिरा गांधी को जीते जी यह सम्मान दे दिया गया था।
इससे पहले श्री योगी ने अपनी सभाओं की शुरूआत गुजराती में केम छो और आप सौं ने जय श्री कृष्णा (कैसे हैं और आप सबको जय श्रीकृष्ण) कह कर की। उन्होंने कहा कि वह भी उत्तर प्रदेश से आये हैं जहां से श्रीकृष्ण द्वारका बनाने के लिए गुजरात आये थे। उन्होंने अक्षरधाम मंदिरों से जुडे स्वामीनारायण संप्रदाय के संस्थापक के भी उत्तर प्रदेश से ही गुजरात आने की चर्चा भी की। ज्ञातव्य है कि श्री योगी आज और कल दक्षिण गुजरात तथा कच्छ में कई चुनावी सभायें करेंगे। इन क्षेत्रों में बडी संख्या उप्र से आकर यहां रहने वाले प्रवासियों की है। गुजरात विधानसभा का चुनाव इस साल दिसंबर में होना है।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here