तुर्की में तख्तापलट के आरोप में 115 लोगों को नजरबंदी वारंट जारी किये

0
14

अनकारा। तुर्की प्रशासन ने पिछले साल हुए तख्ता पलट के असफल कोशिश के आरोपी 15 राज्यों के 115 लोगों को नजरबंदी वारंट जारी किये हैं। एक न्यूज एजेंसी ने आज यहां बताया कि इस कार्रवाई का उद्देश्य अमेरिका के फेतुल्लाह गुलेन के नेटवर्क की वित्तीय संरचना को तोड़ने का है।

Related imageतुर्की गुलेन पर पिछले वर्ष 15 जुलाई को किये गये तख्ता पलट के असफल प्रयास का आरोप लगाते हुए बार-बार अमेरिका से उसके प्रत्यर्पण की मांग करता रहा है लेकिन अभी तक इसका कोई रिजल्ट नहीं निकल पाया है। गुलेन ने इस मामले में संलिप्तता से इनकार किया है।

तख्तापलट के बाद जेल भेजे गये 50,000 से अधिक लोगों पर मुकदमे चल रहे हैं और 150,000 लोगों को सरकारी, निजी और सेना की नौकरियों से या तो हटा दिया गया या बर्खास्त कर दिया गया है। इन कार्रवाइयों ने तुर्की के पश्चिमी सहयोगियों और दक्षिणपंथी संगठनों को परेशान कर दिया है।

और उनको डर है कि तुर्की के राष्ट्रपति तैय्यप एदरेगन असंतोष को दबाने के लिए बहाने के रूप में इन कार्रवाइयों को अंजाम दे रहे हैं। दूसरी ओर सरकार का कहना है कि तख्तापलट की कोशिश के बाद संकट की गंभीरता को देखते हुए ये कदम उठाये जाने आवश्यक थे। उल्लेखनीय है कि तख्तापलट के प्रयास में 240 लोग मारे गए थे।

No ratings yet.

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here