कपिल मिश्रा से लोकायुक्त हुए नाराज, कहा- प्रेस कॉन्फ्रेंस बंद कर तुरंत हाजिर हों

0
57

नई दिल्ली। शुक्रवार को कपिल मिश्रा ने एक और प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल पर आरोपों की झड़ी लगा दी। इस पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे कपिल मिश्रा से लोकायुक्त नाराज हो गए और उन्होंने तुरंत कपिल को हाजिर होने का आदेश दिया। कपिल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, आप जिस आदमी को बचाने के लिए मुकेश कुमार को बलि का बकरा बना रही है, वह हेमप्रकाश शर्मा हैं। उन्होंने कहा कि अगर केजरीवाल की आंखों में थोड़ी सी भी शर्म बची है तो इस्तीफा देकर दिखाएं। कपिल ने कहा कि केजरीवाल ने सबूतों का जवाब नहीं दिया, बस यही कहते रहे कि कपिल BJP का एजेंट है।
गौरतलब है कि 9 मई को कपिल ने लोकायुक्त में शिकायत की थी। वकील नीरज कुमार की तरफ से दर्ज कराई गई शिकायत में कपिल ने मांग की थी कि अरविंद केजरीवाल और सतेंद्र जैन के खिलाफ लोकायुक्त जांच करवाये। इस पर लोकायुक्त ने कपिल मिश्रा को शुक्रवार को तलब किया था। कपिल मिश्रा को शुक्रवार को ही सुबह 11.30 बजे लोकायुक्त में पेश होना था, लेकिन उन्होंने अपने प्रतिनिधि को भेज दिया। इस पर लोकायुक्त नाराज हो गई और कहा कि कपिल मिश्रा अभी प्रेस कांफ्रेंस खत्म करें और कोर्ट में हाजिर हों।
बोले कपिल मिश्रा :- प्रेस कॉन्फ्रेंस में कपिल ने कहा कि हवाला के पैसों का जवाब केजरीवाल ने अभी तक नहीं दिया। कपिल मिश्रा ने कई कंपनियों के लेटर हेड जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि 5 अप्रैल 2014 को एक साथ AAP के खाते में 50 -50 लाख रुपए डाले गए। कपिल मिश्रा ने आरोप लगाते हुए कहा कि अरविंद केजरीवाल के हवाला से सीधे संबंध हैं। उन्होंने कहा, ‘केजरीवाल का कॉलर मेरे हाथ में है और मैं अब उन्हें जेल पहुंचाकर ही दम लूंगा।’ मिश्रा ने कहा कि खुलासे के बाद उनकी हत्या भी हो सकती है।
केजरीवाल के हवाला कारोबारियों, माफियाओं से संबंध, मुझे जान का खतरा : कपिल मिश्रा
दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने CM अरविन्द केजरीवाल पर हवाला कारोबारियों और माफियाओं के साथ सांठगांठ का सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा कि जब तक वह मुख्यमंत्री को जेल की सलाखों के पीछे नहीं पहुंचा देते चुप नहीं बैठेंगे। आम आदमी पार्टी (AAP) से निष्कासित करावल नगर से विधायक श्री मिश्रा ने आज संवाददाता सम्मेलन में श्री केजरीवाल पर नये आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने कालेधन को सफेद करने के लिए नोटबंदी का विरोध किया। उनके हवाला कारोबारियों और माफियाओं से संबंध है। इन आरोपों के बाद श्री केजरीवाल से इस्तीफे की मांग करते हुए श्री मिश्रा ने कहा कि नये खुलासों के बाद उन्हें अपनी जान का भी खतरा है। इस मौके पर कथित सबूत एकत्रित करने में श्री मिश्रा की मदद करने वाले नील भी मौजूद थे। श्री मिश्रा ने कहा कि 2 करोड़ रुपये के चंदे की प्राप्ति के लिये जिस मुकेश कुमार नाम के व्यक्ति का वीडियों सामने लाया गया, वह झूठा वीडियो है। पूर्व मंत्री कहा कि नोटबंदी के दौरान गिरफ्तार किये गये रोहित टंडन की कंपनी के निर्देशक हेमप्रकाश शर्मा नाम के व्यक्ति को बचाने के लिये मुकेश कुमार को आगे किया गया।
कंपनियों के जिस लेटर पैड पर कल (AAP) पार्टी ने चंदा देने की बात कही थी, श्री मिश्रा ने कहा कि यह फर्जी है और घर में बैठकर बनाये गये है। उनका यह भी दावा था कि एक कंपनी के लेटर पैड पर लिखे खत में जो हस्ताक्षर है वह मुकेश कुमार के है ही नहीं। पहले श्री केजरीवाल ने कहा था कि उन्हें यह मालूम नहीं है कि पार्टी को चंदा कहां से मिला मुख्यमंत्री भारतीय राजस्व सेवा के पूर्व अधिकारी है और कानून जानते है। इसलिये उन्हें अब यह बताना होगा कि 2 करोड़ रुपये का चंदा कहां से आया। चंदे की तारीख को लेकर भी श्री मिश्रा ने सवाल उठाये और कहा कि मुकेश कुमार ने जब चंदा दिया उस समय वह कंपनी में निर्देशक थे ही नहीं।
मिश्रा और सिरसा पर सत्येन्द्र ने किया मानहानि का मुकदमा
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने अपने पूर्व मंत्रिमंडल सहयोगी कपिल मिश्रा और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अकाली विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा पर आज मानहानि का मुकदमा दर्ज किया है। श्री जैन ने यह मामला तीस हजारी अदालत में श्री मिश्रा के उन पर भ्रष्टाचार के झूठे और निराधार आरोपों को लेकर दर्ज किया है। श्री मिश्रा को इन आरोपों के बाद मंत्रिमंडल से हटाने के साथ ही आम आदमी पार्टी(आप) से निलंबित कर दिया गया था। श्री मिश्रा ने यह आरोप लगाया था कि श्री जैन द्वारा मुख्यमंत्री अर¨वद केजरीवाल को दो करोड़ रुपये देते हुए देखा था। इसके बाद श्री मिश्रा पर कार्रवाई करते हुए 06 मई को उन्हें मंत्रिमंडल से हटाया गया था। पूर्व मंत्री ने इस मामले के संबंध में दिल्ली सरकार की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा से भी शिकायत की थी।

5/5 (3)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here