राजनीतिक सरगर्मियां तेज: लॉबिंग पूरे शबाब पर, सहज और अच्छी छवि वाले नेताओं की तलाश में BJP

0
16
Assembly Election

जबलपुर। आने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Election) नजदीक आ रहे हैं और इसकी वजह से राज्य में राजनीतिक सरगर्मियां तेज होती जा रही हैं। इस चुनाव को लेकर उत्तर मध्य विधानसभा क्षेत्र में बनते बिगड़ते समीकरण खासे रोचक हो चले हैं। जिसका आधार भाजपा की यह घोषणा है कि जीतने वाले उम्मीदवार पर ही दांव लगाया जाएगा। इस घोषणा ने दावेदारों का रुझान सामाजिक सरोकारों पर बढ़ा दिया है, वहीं पहले से सामाजिक सरोकारों से जुड़े लोग भी उत्साहित हैं।

उल्लेखनीय है कि, विगत दिनों सतत चलने वाले सर्वे के दौरान क्षेत्र में भाजपा के लिए निगेटिव माहौल की बात सामने आई थीं, जिसको लेकर जिम्मेदारों की चिंता स्वाभाविक थी। इस निगेटिविटी को पूरे जबलपुर जिले स्तर पर सरकारी योजनाओं के प्रचार प्रसार के माध्यम से कार्यकर्ताओं द्वारा दूर करने की जीतोड़ कोशिश की गई थी। इसी दौरान इस बात ने भी बल पकड़ा कि इस बार क्षेत्र के प्रतिनिधित्व के लिए ऐसा नाम सामने करना होगा जो पार्टी की नैया सहज ही पार लगाए।

अच्छी छवि वाले नेताओं की तलाश में BJP

भारतीय जनता पार्टी (BJP) आलाकमान इस बार सहज और अच्छी छवि वाले नेताओं की तलाश में है, जिसकी जीत भी सुनिश्चित लगे। इस क्रम में वर्तमान विधायक और राज्य मंत्री शरद जैन तो हैं ही, पर इसके साथ ही कई और नामों पर भी प्रमुखता से चर्चा की जा सकती है।राजनीतिक सरगर्मियां तेज: लॉबिंग पूरे शबाब पर, सहज और अच्छी छवि वाले नेताओं की तलाश में BJP

ये हैं दावेदारों में अग्रणी कुछ खास नाम

अन्य दावेदारों में प्रमुखता से शरद अग्रवाल का नाम लिया जा सकता है। संघ से जुड़े श्री अग्रवाल अपने सामाजिक सरोकारों (साहित्यिक आयोजन) को लेकर भी लंबे समय से जाने जाते हैं। 1984 से भाजपा में सक्रिय श्री अग्रवाल पूर्व में युवा मोर्चा अध्यक्ष व भाजपा के मंत्रीपद पर भी रह चुके हैं। अन्य प्रमुख नामों में धीरज पटेरिया का भी जनाधार उनकी उम्मीदवारी को बल देता है। जो भाजपा शासनकाल से पहले भी न केवल समर्पित कार्यकर्ता रहे हैं, बल्कि विभिन्न पदों पर रहकर उनका निर्वहन बखूबी किया है। भाजपा के पूर्व नगर अध्यक्ष रह चुके डॉ. विनोद मिश्रा प्रखर वक्ता के रूप में पहचाने जाते हैं। वर्तमान में जेडीए अध्यक्ष हैं।

लॉबिंग पूरे शबाब पर, दिल्ली दरबार तक दस्तक

स्थितियों को भांपते हुए उत्तर मध्य से अपनी टिकट पक्की करने की दिशा में ये दावेदार कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे। कुछ की दौड़ तो दिल्ली तक लग चुकी है वहीं संघ के दरबार में भी उनकी दस्तक नियमित रूप से जारी हैं।

5/5 (2)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image