CM जनकल्याण संबल योजना श्रमिकों के लिये बनी लाभदायक

0
8323
Mukhyamantri Jan kalyan Sambal Yojana
अब तक उज्जैन संभाग में 3 लाख 59 हजार से अधिक हितग्राही हुए लाभान्वित

उज्जैन। CM जनकल्याण संबल योजना (Mukhyamantri Jan kalyan Sambal Yojana) धीरे-धीरे श्रमिकों के लिये लाभदायक सिद्ध हो रही है। राज्य सरकार की इस महती योजना में लाखों हितग्राही लाभान्वित हो रहे हैं। उच्च जोखिम गर्भावस्था की शीघ्र पहचान, सुरक्षित प्रसव, गर्भवती एवं शिशु के जन्म उपरान्त टीकाकरण व स्तनपान को समुचित बढ़ावा देना तथा महिलाओं व शिशुओं के स्वास्थ्यवर्द्धक व्यवहारों के प्रोत्साहन हेतु पंजीकृत श्रमिक महिला की प्रसूति होने पर नगद राशि के प्रावधान हैं।

गरीबों के जीवन में अनुकूल वातावरण का निर्माण

इससे  संभाग में गरीबों के जीवन में अनुकूल वातावरण का निर्माण हो रहा है। संभाग में योजना के अन्तर्गत प्रसूति सहायता योजना में छह हजार 843 से अधिक प्रसूति महिलाओं को लाभान्वित किया गया है। श्रमिक महिलाओं को शासकीय स्वास्थ्य संस्था में प्रसूति करवाने की स्थिति में योजना के अन्तर्गत, 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र की श्रमिक महिलाओं अथवा पंजीकृत श्रमिक पुरूषों की पत्नियों को गर्भावस्था के दौरान चार प्रसव पूर्व जांच कराने पर चार हजार रूपये प्रदान किये जा रहे हैं।

शासकीय अस्पतालों में प्रसूति कराने पर 12 हजार रूपये, प्रथम दो जीवित सन्तानों तक प्रदान किये जा रहे हैं। सहायक श्रमायुक्त उज्जैन संभाग उज्जैन से प्राप्त जानकारी के अनुसार संभाग में योजना के अन्तर्गत अन्त्येष्टि सहायता में 550, सामान्य मृत्यु की दशा में अनुग्रह सहायता 506, दुर्घटना मृत्यु की दशा में अनुग्रह सहायता 80, उच्च शिक्षा हेतु नि:शुल्क प्रवेश योजना में 161 हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया है।

उज्जैन संभाग में सरल बिजली बिल स्कीम में योजना:

इसी प्रकार उज्जैन संभाग में सरल बिजली बिल स्कीम में योजना के अन्तर्गत एक लाख 80 हजार 474 हितग्राहियों के घरों में बिजली पहुंचाने का कार्य सम्पन्न हुआ है। इसी प्रकार योजना में संभाग में CM बकाया बिल माफी स्कीम में एक लाख 71 हजार 331 हितग्राहियों के बकाया बिल की राशि माफ की गई है। इस तरह उज्जैन संभाग में तीन लाख 59 हजार 947 हितग्राहियों को संबल योजना के अन्तर्गत विभिन्न योजनाओं में लाभान्वित किया गया है। उल्लेखनीय है कि CM जनकल्याण योजना के अन्तर्गत 2 जुलाई की स्थिति में उज्जैन जिले में प्रसूति सहायता में 1206, मंदसौर में 1029, नीमच में 473, रतलाम में 1555, शाजापुर में 677, देवास में 1004, आगर-मालवा में 899 पंजीकृत श्रमिक महिलाओं को लाभान्वित किया गया है।

इसी तरह अन्त्येष्टि सहायता में उज्जैन जिले में 82, मंदसौर जिले में 121, नीमच जिले में 88, रतलाम जिले में 61, शाजापुर जिले में 48, देवास जिले में 109 और आगर-मालवा में 41 हितग्राही शामिल हैं। संबल योजना में सामान्य मृत्यु की दशा में अनुग्रह सहायता प्रकरण में उज्जैन जिले में 75, मंदसौर जिले में 108, नीमच जिले में 94, रतलाम जिले में 70, शाजापुर जिले में 37, देवास जिले में 86, आगर-मालवा में 36 को लाभान्वित किया गया है।

CM जनकल्याण संबल योजना उज्जैन जिले में:

CM जनकल्याण संबल योजना के अन्तर्गत दुर्घटना मृत्यु की दशा में उज्जैन जिले में 12, मंदसौर जिले में 13, नीमच जिले में सात, रतलाम जिले में छह, शाजापुर जिले में 11, देवास जिले में 25, आगर-मालवा जिले में छह प्रकरणों में अनुग्रह सहायता राशि उपलब्ध कराई गई है। इसी तरह सरल बिजली बिल स्कीम के अन्तर्गत उज्जैन जिले में 46 हजार 257, मंदसौर जिले में 40 हजार, नीमच जिले में 21 हजार 550, रतलाम जिले में 26 हजार 723, शाजापुर जिले में 22 हजार 30, देवास जिले में 16 हजार 681 और आगर-मालवा जिले में सात हजार 233 पंजीकृत श्रमिकों के घरों में उजियारा कर उन्हें लाभान्वित किया गया है।

इसी तरह CM बकाया बिजली बिल में उज्जैन जिले में 36 हजार 274, मंदसौर जिले में 36 हजार, नीमच जिले में 16 हजार 442, रतलाम जिले में 28 हजार 829, शाजापुर जिले में 14 हजार 821, देवास जिले में 30 हजार 907 और आगर-मालवा जिले में आठ हजार 58 श्रमिक हितग्राहियों को लाभान्वित कर उनके बकाया बिजली बिलों की राशि से माफ किया गया है। वहीं उच्च शिक्षा हेतु पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को नि:शुल्क प्रवेश योजना में उज्जैन जिले में 22, मंदसौर जिले में 20, नीमच जिले में 42, रतलाम जिले में 15, शाजापुर जिले में 15, देवास जिले में 35 और आगर-मालवा में 12 बच्चों को लाभान्वित किया गया है।

4.3/5 (10)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image