Birthday Special :

भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधू (P. V. Sindhu) का आज 5 जुलाई को 23वां जन्मदिन हैं। पीवी सिंधू का जन्म 5 जुलाई सन 1995 में हैदराबाद, आंध्र प्रदेश, भारत मे हुआ हैं। पीवी सिंधू एक विश्व वरीयता प्राप्त भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी हैं।

परिचय

•    पूरा नाम – पुसरला वेंकट सिंधु
•    जन्म – 5 जुलाई सन 1995
•    स्थान – हैदराबाद, आंध्र प्रदेश, भारत
•    ऊँचाई -5 फीट 10 इंच (1.78 मी॰)
•    खेल  – बैडमिंटन
•    कोच  – पुलेला गोपीचंद
•    खेल करियर  – 2009 से शुरू
•    राष्ट्रीयता – भारत

प्रारम्भिक जीवन :

भारत की स्टार महिला बैडमिंटन खिलाड़ी P. V. Sindhu का पूरा नाम पुसरला वेंकट सिंधु है। पी. वी. सिन्धु के पिता और माता दोनों वालीबाल के अच्छे खिलाड़ी रह चुके हैं। सिंधु के पिता वालीबाल के राष्ट्रीय खि‍लाड़ी हैं, उन्हें वर्ष 2000 में भारत सरकार का अर्जुन पुरस्कार प्राप्त किया है। इसलिए पी वी  सिंधु ने भी अपना करियर बैडमिंटन चुना है।

बैडमिंटन में भारत को रजत पदक दिलाने वाली महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिन्धु पर आज पूरा भारत देश गर्व करता है। P. V. Sindhu भारत की एक उभरती हुई महिला बैडमिंटन खिलाड़ी हैं ।

करियर

Birthday Special : भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी P. V. Sindhu का आज 23वां जन्मदिनभारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी P. V. Sindhu ने 8 साल की उम्र में अपने करियर की शुरुआत की थी, सिंधु ने बैडमिंटन की बेसिक ट्रेनिंग सिकंदराबाद स्थित रेलवे इंस्टीट्यूट ऑफ सिगनल इंजीनियरिंग ग्राउंड पर शुरू की थी। लेकिन जल्द ही उन्होंने पुलेला गोपीचंद की हैदराबाद स्थित गोपीचंद एकेडमी में ट्रेनिंग लेना शुरू कर दिया था। सिंधु के खेल का अहम हिस्सा कभी हार न मानने की प्रवृति है गोपीचंद एकेडमी से जुडऩे के साथ ही सिंधु का सुनहरा सफर शुरू हो गया था। उन्होंने उस दौरान अंडर-10 आयु वर्ग में कई खिताब जीते, इस दौरान पीवी सिंधू ने नेशनल स्कूल गेम्स ऑफ इंडिया में स्वर्ण पदक जीतने के साथ ही अंडर-13 व अंडर-12 एकल व युगल वर्ग में कई राष्ट्रीय खिताब अपने नाम किए।

आइये जानते है P. V. Sindhu से जुडी कुछ खास बातें

  • वर्ष 2001 में जब पुलेला गोपीचंद ने ऑल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैम्पियनशिप का खिताब जीता था, P. V. Sindhu ने तभी तय कर लिया था कि वह भी बड़ी होकर शटलर बनेंगी।
  • वर्ष 2009 में सिंधु ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने दमखम का परिचय दिया, सिंधु ने कोलंबों में आयोजित सब जूनियर एश‍ियाई बैडमिंटन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था।
  • ईरान में वर्ष 2010 में बैडमिंटन चेलेन्ज के एकल वर्ग में सिंधु ने सिल्वर मेडल जीता था। इसी वर्ष में ही सिन्धु ने मेक्सिको में आयोजित जूनियर विश्व बैडमिंटन चैम्पियनशिप के क्वाटर्स फाइनल तक खेला था।
  • वर्ष 2012 में सिन्धु ने सुपर सीरिज टूर्नामेंट लंदन ओलंपिक चीन की गोल्ड मेडल प्राप्त खिलाड़ी ली जेराऊ को हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया था।
  • P. V. Sindhu ने 2013 में दिसम्बर में भारत की 78वी सीनियर नैशनल का खिताब जीता था।
  • वर्ष 2014 में ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में शानदार प्रदर्शन करते हुए सिंधु सेमीफाइनल तक पहुंचने में सफल रहीं थी।
  • वह विश्व चैम्पियनशिप में लगातार दो पदक जीतने वाली पहली भारतीय शटलर बनीं।

Birthday Special : भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी P. V. Sindhu का आज 23वां जन्मदिन

रियो ओलम्पिक 2016 :

2016 में P. V. Sindhu ने ब्राजील के रियो जेनेरियो में आयोजित किये गये ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक में भारत की तरफ से प्रतिनिधित्व किया था और एकल खिताब में पहुँचने वाली सिन्धु एकमात्र भारतीय खिलाड़ी बनी थी। फाइनल में सिन्धु का मुकाबला विश्व की प्रथम खिलाड़ी स्पेन की कैरोलिना मैरिन के साथ हुआ लेकिन सिन्धु आखिरी समय में कोई खास कमाल नहीं कर पायी और हार गई, उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा था ।

साल 2017 में :

साल 2017 में आयोजित इंडिया ओपन में P. V. Sindhu का सामना एक बार फिर ओलंपिक चैम्पियन कैरोलिना मालिन से हुआ, लेकिन इस बार भारतीय खिलाड़ी ने उसे हराकर बदला चुकता कर लिया था। इसके बाद स्कॉटलैंड के ग्लास्गो में आयोजित विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में सिंधु, जापानी खिलाड़ी नोजोमी ओकुहारा से हारकर रजत पदक जीतने में सफल रहीं थी। यह उनके करियर की दूसरी सबसे बड़ी उपलब्धि रही थी। इसी साल आंध्र प्रदेश सरकार ने सिंधु को कृष्णा जिले का डिप्टी कलेक्टर मनोनीत किया था। साल के अंत में सिंधु ने एक और बड़ी उपलब्धि अपने नाम की वह दुबई में हुई वर्ल्ड सुपर सीरीज फाइनल्स में रजत पदक जीतने में सफल रहीं थी।

पदक रिकॉर्डBirthday Special : भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी P. V. Sindhu का आज 23वां जन्मदिन

•    2016    रियो डी जिनेरियो ओलंपिक में रजत पदक
•    2017    विश्व चैम्पियनशिप में रजत पदक
•    2013    विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक
•    2014    विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक
•    2014    एशियन गेम्स में कांस्य पदक
•    2014    राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक

P. V. Sindhu करियर रिकॉर्ड

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी P. V. Sindhu ने अपने करियर रिकॉर्ड में कुल 346 मैच खेले और उसमे से कुल 242 मैच जीते है और 104 मैच हारे है, पीवी सिंधू अब तक 10 खिताब जीत चुकी हैं।Birthday Special : भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी P. V. Sindhu का आज 23वां जन्मदिन

 सम्मान एवं पुरस्कार

  • 2013 में पीवी सिंधू को “Arjuna Award for Badminton Award” से सम्मानित किया गया था।
  • पीवी सिंधू को 2013 में “CNN-IBN Indian of the Year in Sports Award” से सम्मानित किया गया था।
  • पीवी सिंधू को 2015 में “Padma Shri Award” से सम्मानित किया गया था।
  • 2016 में पीवी सिंधू को ” Rajiv Gandhi Khel Ratna award for Badminton” से सम्मानित किया गया था।
  • भारतीय बैडमिंटन समिति की ओर से पीवी सिंधू को 10 लाख रूपये का पुरस्कार मिला था।
  • मलेशिया मास्टर्स में जीत के लिये भारतीय बैडमिंटन की तरफ से 5 लाख रूपये का पुरस्कार मिला था ।
  • तेलंगाना राज्य की ओर से पीवी सिंधू को जमीन और 5 करोड़ रुपये का पुरस्कार मिला था ।
  • P. V. Sindhu को 3 करोड़ आंध्रप्रदेश सरकार की ओर से जमीन और नौकरी मिली थी ।
  • FICCI की तरफ से पीवी सिंधू को 2014 का स्पोर्ट पर्सन ऑफ़ दी इयर अवॉर्ड मिला था ।
  • पीवी सिंधू को 2014 में NDTV की तरफ से इंडियन ऑफ़ दी इयर अवॉर्ड मिला था ।
5/5 (2)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image