आइये जाने क्या है अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ (IATA) और इसके कार्य

0
31

आइये जाने क्या है अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ (IATA) और इसके कार्यअंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ IATA के बारे में बहुत लोगो ने सुना होगा लेकिन बहुत कम लोग ही ऐसे है जो इसके बारे में जानते है। आज हम जाने कि, क्या है अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ और इसके कार्यो से जुड़ी जानकारी ????

क्या है  अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ (आईएटीए):

अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ 120 देशों के 280 अनसूचित अंतरराष्ट्रीय एयरलाइन्स का एक समूह है। इसका अंग्रेजी में पूरा नाम International Air Transport Association है। हम इसे एक तरह का लाइसेंस भी कह सकते है यह सरकार द्वारा जिस कंपनी को सरकार द्वारा अनुसूचित वायु सेवा प्रदान करने के लिये दिया जाता है। जिस कंपनी को यह लाइसेंस प्राप्त हो जाता है। उसे ICAO की सदस्यता प्राप्त हो जाती है। ICAO का काम 240 एयरलाइन्स का प्रतिनिधित्व करना है। इसके साथ ही ICAO कुल वायु ट्रैफिक का 84 प्रतिशत देखता है।

आईएटीए की स्थापना:

विश्व के पहले अंतरराष्ट्रीय अनुसूचित वायु सेवा संगठन (International Air Traffic Association) का गठन 1919 में हेग,नीदरलैंड्स में हुआ था। अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ (IATA) की स्थापना 19 अप्रैल 1945 को क्यूबा के हवाना में हुई थी। इसकी स्थपना अंतरराष्ट्रीय वायु यातायात संघ के उत्तरवर्ती संगठन के रूप में की गई थी। इसकी स्थापना के समय 31 देशों से 57 एयरलाइंस शामिल किये गए थे। इसका मुख्यालय कनाडा के मोंट्रियल में स्थित है। इसका अन्य कार्यालय स्विट्जरलैंड के जिनेवा में है। वर्तमान में यह संगठन 150 से अधिक देशों में व्याप्त है।

आईएटीए का कार्य:

अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ का मुख्य कार्य अन्तर-वायु कंपनी मामलों में सहयोग स्थापित करना है। इसके अलावा इसका काम लोगों को लाभ पहुंचाने के उदेश्य से सुरक्षित, निश्चित, विश्वसनीय तथा आर्थिक रूप से व्यवहार्य वायु सेवाएं सुनिश्चित करना। यह एयर-कॉमर्स को प्रोत्साहित करने के साथ ही एयर-कॉमर्स की सभी समस्याओं का अध्ययन करने का काम भी करती है। IATA के सदस्य एयरलाइंस ASM (Available Seat Mile) का लगभग 82% हवाई यातायात ले जाने के लिए जिम्मेदार हैं। IATA का काम उद्योग नीति और मानकों को तैयार करना भी है साथ ही IATA ने एयरलाइन गतिविधि का समर्थन किया है। IATA ने अपने कार्य की शुरुआत में ज्यादातर कार्य तकनीकी तरीके से किये थे। इसमें नए सिरे से किए गए अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) को इनपुट प्रदान किया जाता था, जो कि शिकागो कन्वेंशन के समझौते से परिलक्षित किया गया था।

अन्य कार्य:
  • IATA  विमानन के लिए महत्वपूर्ण क्षेत्रों में परामर्श और प्रशिक्षण सेवाएं प्रदान करता है।
  • ट्रैवल एजेंट के लिए टिकट IATA उपलब्ध कराता है। जो एजेंटों को सदस्य एयरलाइनों की तरफ से टिकट बेचने की अनुमति देता है।
  • सका काम बिलिंग और सेटलमेंट प्लान चलना भी है। जो कि 300 अरब डॉलर से अधिक वित्तीय प्रणाली है।
  • प्रशिक्षण में विमानन के सभी पहलुओं और शुरुआती पाठ्यक्रमों के माध्यम से वरिष्ठ प्रबंधन पाठ्यक्रम तक शामिल हैं।
  • IATA का काम टिकट टैक्स बॉक्स सेवा का प्रबंध भी देखना है।
सुरक्षा का पूरा ध्यान:
  • IATA हमेशा से ही सुरक्षा को प्राथमिकता देता है। सुरक्षा के लिए मुख्य साधन अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ संचालन सुरक्षा लेखा परीक्षा है। कई देशों द्वारा IOSA को राज्य स्तर पर अनिवार्य किया गया है।
  • अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ ने वास्तविक समय में उड़ान में विमान को ट्रैक करने के उपायों का अध्ययन करने के लिए जून 2014 में एक विशेष पैनल की स्थापना भी की थी।
  • 11 सितंबर 2001 के हमलों के बाद IATA के लिए सुरक्षा और अधिक महत्वपूर्ण हो गई।
  • IATA ने जोखिम मूल्यांकन और यात्री भेदभाव पर आधारित एक चेकपॉइंट विकसित किया है।
5/5 (2)

Please rate this

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enter Captcha Here : *

Reload Image